S M L

उत्तराखंड में बूचड़खाने खोलने की इजाजत नहीं दी जाएगी: त्रिवेंद्र सिंह रावत

गौ संरक्षण पर अपनी सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए रावत ने कहा कि उत्तराखंड ऐसा पहला राज्य है जहां गोहत्या और तस्करी रोकने के लिए विशेष पुलिस दस्ते बनाए गए हैं

Bhasha Updated On: Aug 11, 2018 08:27 PM IST

0
उत्तराखंड में बूचड़खाने खोलने की इजाजत नहीं दी जाएगी: त्रिवेंद्र सिंह रावत

शनिवार को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि उनकी सरकार राज्य में बूचड़खानों को खोलने की इजाजत नहीं देगी और पिछली सरकारों की ओर से जारी लाइसेंसों को रद्द करेगी. गौ संरक्षण पर अपनी सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराते हुए रावत ने कहा कि उत्तराखंड ऐसा पहला राज्य है जहां गोहत्या और तस्करी रोकने के लिए विशेष पुलिस दस्ते बनाए गए हैं. रावत के मुताबिक देहरादून, हरिद्वार और उधम सिंह नगर जिलों में विशेष पुलिस दस्ते बनाए गए हैं.

रावत का कहना है, ‘ हम राज्य में बूचड़खानों को खोलने की अनुमति नहीं देंगे. पिछली सरकारों ने जो लाइसेंस जारी किए हैं उन्हें रद्द किया जाएगा.’ वह गायों की संख्या बढ़ाने के लिए एक अमेरिकी कंपनी के साथ सहमति पत्र पर हस्ताक्षर के मौके पर बोल रहे थे. यह अमेरिकी कंपनी कृत्रिम गर्भाधान के लिए शुक्राणुओं का उत्पादन करेगी.

रावत ने कहा कि उन्होंने एक अखबार में पढ़ा था कि पिछली सरकार ने 2016 में मंगलौर में एक बूचड़खाना खोलने का लाइसेंस जारी किया है. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘मैंने तुरंत जिलाधिकारी से बात की और उनसे लाइसेंस या पहले दी गई इस तरह की अनुमति को रद्द करने को कहा.’ उन्होंने कहा कि गाय किसानों की आय बढ़ाने में मदद कर सकती हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi