S M L

दोहरे हत्याकांड में मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी बरी

अदालत ने 8 लोगों को इस हत्याकांड में बरी करते हुए 3 को दोषी माना है

FP Staff Updated On: Sep 27, 2017 03:58 PM IST

0
दोहरे हत्याकांड में मऊ के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी बरी

बाहुबली नेता और मऊ से बसपा विधायक मुख्तार अंसारी को बुधवार को मऊ की अदालत ने बहुचर्चित मन्ना सिंह हत्याकांड में निर्दोष करार दे दिया है. अदालत ने इस मामले में अंसारी के अलावा 7 अन्य लोगों को भी को बरी कर दिया. इसके अलावा 3 लोगों को दोषी करार दिया गया है.

दरअसल 29 अगस्त, 2009 को मऊ के गाजीपुर तिराहे पर ठेकेदार अजय प्रकाश सिंह उर्फ मन्ना सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. गोली लगने से उनके चालक शब्बीर शाह और साथी राजेश राय भी घायल हुए थे. बाद में राजेश राय की भी इलाज के दौरान मौत हो गई थी.

इन सभी आरोपियों को हत्या और हत्या के प्रयास  के आरोप में दोषी ठहराया गया है, और इन्हें सजा बाद में सुनाई जाएगी.

8 साल तक चली सुनवाई के दौरान कुल 22 गवाहों में से 17 गवाह पेश हुए. जिनमें हरेंद्र सिंह, अमरजीत सिंह, शब्बीर शाह, पीयूष सिंह, जगदीश सिंह, मंजू सिंह, बब्बन राजभर के अलावा कांस्टेबल हीरामन,डॉक्टर गिरीश चंद्र, डॉक्टर एम एस कुमार, एवं नगर कोतवाल जे पी तिवारी, कोतवाल वाईपी सिंह, मंगरू सिंह, डॉक्टर एपी गुप्ता, चंद्रशेखर सिंह, कोतवाल आर बी तिवारी, उपनिरीक्षक गौरी शंकर सिंह शामिल थे.

3 लोग दोषी करार

अदालत ने 8 लोगों को इस हत्याकांड में बरी करते हुए 3 को दोषी माना है. दोषी पाए गए लोगों में अरविंद यादव, राजू उर्फ जामवंत और अमरेश कनौजिया शामिल हैं. इन सभी आरोपियों को हत्या और हत्या के प्रयास के लिए दोषी ठहराया गया है.

रिहा किए गए लोगों में मुख्तार अंसारी, अमरजीत सिंह, हरेंद्र सिंह, शब्बीर शाह संतोष सिंह, रजनीश सिंह, हुनमान पांडेय, और जगदीश सिंह शामिल हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi