Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

ओह माय गॉड! आध्यात्म से अय्याशी के सफर पर डगमगाते बाबा

राम रहीम, आसाराम, रामपाल और नित्यानंद को देख कर कह सकते हैं कि बाबा बनो या भगवान लेकिन कानून से ऊपर कोई नहीं

Kinshuk Praval Kinshuk Praval Updated On: Aug 26, 2017 12:09 AM IST

0
ओह माय गॉड! आध्यात्म से अय्याशी के सफर पर डगमगाते बाबा

आखिर क्या वजह है कि दूसरों को आध्यात्म, मानवता और इंसानियत की दीक्षा देने वाले वाले बाबा खुद मोहजाल का शिकार हो जाते हैं? भक्तों की अगाध आस्था इन बाबाओं को मसीहा बना देती है और देखते ही देखते ये बाबा अरबों का साम्राज्य बना लेते हैं.

लेकिन भक्ति के मार्ग पर दूसरों को चलने की शिक्षा देते-देते इनके डगमगाते कदम इन्हें कुकर्म के घने अंधेरे में धकेल देते हैं. डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत राम रहीम पर रेप का आरोप, आसाराम और उनके बेटे नारायण साईं पर रेप का आरोप तो नित्यानंद स्वामी पर भी यौन शोषण के आरोप आध्यात्म और धर्म को शर्मसार करने के लिये काफी हैं.

लेकिन ये विडंबना है कि इसके बावजूद भक्तों की अंधआस्था इनके खिलाफ होने वाली कार्रवाई पर हिंसक हो जाती है.

ASARAM

संत आसाराम भी आध्यात्मिक गुरु थे. उनके लाखों भक्त थे. आसाराम को लाखों भक्तों के दान ने अरबपति बना दिया था. उनका साम्राज्य, ऐश्वर्य और वैभव इंद्र से कम नहीं था. पिता-पुत्र की रासलीला देखकर भक्त मंत्रमुग्ध होते थे. आध्यात्म की आड़ में एक छद्म आवरण सामने था. लेकिन उनके रहस्यमय लोक के अय्याशगृह में दूसरी दुनिया रची बसी थी.

बाप-बेटे ने मिलकर रखा पूरे सिस्टम को गिरवी

स्वयंभू बापू को प्रसन्न करने के लिए वफादार भक्त आश्रम में आई हुई लड़कियों को चुनते थे और बापू तक पहुंचाते थे. पाप का घड़ा भरता गया. एक दिन छलका और फिर फूट भी गया. नाबालिग छात्र के यौन उत्पीड़न के आरोप में आसाराम गिरफ्तार हुए. बड़ा सवाल था कि इतने संगीन आरोप पर कार्रवाई कैसे होगी? आखिर कार्रवाई होनी ही चाहिए ताकि न्याय व्यवस्था पर आम आदमी भरोसा कर सके.

आसाराम की गिरफ्तारी के बाद जब उनका पर्दाफाश हुआ तो बेटा नारायण साईं भी गिरफ्तार हुआ. गिरफ्तारी के बाद जब आश्रम की इनसाइड स्टोरी सामने आई तो पता चला कि आसाराम ने किस तरह दस हजार करोड़ का साम्राज्य खड़ा किया था.

कहीं बेशकीमती जमीन पर कब्जा किया तो कहीं जमीनों की धोखाधड़ी की गई. देश भर में उनके पास अरबों की जमीन निकली और सौ से ज्यादा जगहों पर उनके आश्रम बने. साम-दाम-दंड-भेद से उन्होंने अकूत संपत्ति हासिल की. दूसरों को वैराग्य का पाठ पढ़ाने वाले आसाराम खुद सबसे बड़े मोही निकले. उन्हीं के नक्शेकदम पर उनका बेटा नारायण साईं भी निकला. इसके बावजूद लोगों की आस्था आहत नहीं हुई.

आसाराम की गिरफ्तारी के विरोध में प्रदर्शन भी हुए. हद तो तब हुई जब आसाराम के खिलाफ गवाही देने वाले एक-एक कर मारे जाने लगे. ये आसाराम का 'ऋषिप्रसाद' था.

रामपाल की 'सेना' ने पुलिस को खूब छकाया

rampal

हरियाणा के हिसार के संत रामपाल ने भी खुद को कबीर का अवतार बता कर भक्तों की भीड़ इकट्ठा की. खुद को भगवान घोषित करने वाले रामपाल आध्यात्म की दुनिया से पहले हरियाणा की सिंचाई विभाग में इंजीनियर थे. 18 साल तक नौकरी करने के बाद इस्तीफा देकर सत्संग शुरू किया. देखते ही देखते हजारों भक्तों के बाबा बन गए.

लेकिन बाबा बनो या भगवान, कानून से ऊपर कोई नहीं. वहीं इनके साथ भी हुआ. संत रामपाल साल 2006 में एक हत्या के मामले में आरोपी बने थे और उसके बाद जमानत मिल गई थी. लेकिन उसके बाद से वो अदालत में हाजिर नहीं हुए. जिसके बाद पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने खुद संज्ञान लिया. उनके खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी किया गया.

रामपाल की गिरफ्तारी पर भी बहुत हंगामा हुआ. गिरफ्तारी के बाद जब इनके बनाए सतलोक आश्रम की इनसाइड स्टोरी सामने आई तो  वहां भी सेक्स स्केंडल दिखाई दिया. रामपाल के आश्रम से कई आपत्तिजनक दवाइयां बरामद हुईं. आरोप है कि उनके आश्रम में गर्भपात सेंटर चलता था. संत रामपाल पर सरकारी काम में रुकावट डालने और आश्रम में लोगों को जबरन बंधक बनाने का मामला दर्ज किया गया. संत रामपाल फिलहाल हिसार जेल में बंद हैं.

दक्षिण के विवादास्पद नित्यानंद स्वामी भी 'सेक्सी संन्यासी' ही निकले. उनके खिलाफ अश्लीलता और यौन शोषण के मामले दर्ज किये गए. उनकी एक सेक्स सीडी सामने आई जिसमें वो एक अभिनेत्री के साथ आपत्तिजनक हालत में दिखाई दिए. इसके बाद नित्यानंद को गिरफ्तार कर लिया गया. नित्यानंद ने सीडी में दिखने वाली पंद्रह महिलाओं के साथ संबंध बनाने की बात को कबूल किया.

नित्यानंद ने भी किया श्रद्धा और सेक्स का घालमेल

nithyanand

नित्यानंद 52 दिन तक जेल में रहे और उसके बाद उन्हें जमानत मिल गई. नित्यानंद पर भारतीय मूल की अमेरिकी महिला ने यौन शोषण का आरोप लगाया. एक तरफ सेक्स सीडी तो दूसरी तरफ महिला के आरोप ने नित्यानंद के आध्यात्म के सिंहासन को हिला कर रख दिया.

आरोप लगा कि नित्यानंद सेक्स के आदी हैं और आश्रम में आने वाली महिलाओं का यौन शोषण करने के लिये खास रणनीति बनाते थे. योग की आड़ में नित्यानंद की वासना का खेल सबके सामने आ चुका था. लेकिन उससे पहले नित्यानंद की पहचान अद्वैत सिद्धांतों पर प्रवचन देने वाले योगी की थी.

अब डेरा सच्चा सौदा के प्रमुख गुरमीत सिंह राम रहीम की रेप के आरोप में गिरफ्तारी उन तमाम धार्मिक अनुयायियों की आस्था पर आघात से कम नहीं है जो अपने बाबा में भगवान तलाशते थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi