S M L

कांग्रेस की वर्धा में बैठक: 76 साल बाद याद आया 'भारत छोड़ो' आंदोलन

1942 में कांग्रेस वर्किंग कमिटी की वर्धा में हुई बैठक में भारत छोड़ो आंदोलन पर फैसला लिया गया था

Updated On: Oct 02, 2018 05:20 PM IST

FP Staff

0
कांग्रेस की वर्धा में बैठक: 76 साल बाद याद आया 'भारत छोड़ो' आंदोलन

महात्मा गांधी के जयंती के अवसर पर कांग्रेस पार्टी के तमाम नेता मंगलवार को महाराष्ट्र के वर्धा जिले स्थित सेवाग्राम आश्रम पहुंचे. यहां जाने के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने एक ट्वीट किया. इस ट्वीट में उन्होंने लिखा कि कांग्रेस की निर्णय लेने वाली सबसे बड़ी समिति कांग्रेस वर्किंग कमिटी आज 76 साल बाद फिर से बैठक कर रही है. 76 वर्ष पूर्व इसी बैठक में अंग्रेजों के खिलाफ चले भारत छोड़ो आंदोलन पर फैसला लिया गया था.

कांग्रेस ने 14 जुलाई 1942 को हुई कांग्रेस वर्किंग कमिटी की इस बैठक में महात्मा गांधी की योजना भारत छोड़ो आंदोलन को अपनाया था. भारत छोड़ो आंदोलन का स्वतंत्रता की लड़ाई में एक अहम योगदान रहा.

अहमद पटेल ने अपने ट्वीट के साथ एक फोटो भी शेयर किया है. इस फोटो में तब के कांग्रेस अध्यक्ष मौलाना अबुल कलाम आजाद, महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और सरदार वल्लभ भाई पटेल मंच पर दिख रहे हैं.

कांग्रेस ने कहा कि सेवाग्राम आश्रम में उनके शीर्ष नेतृत्व की बैठक महात्मा गांधी की 150वीं जयंती समारोह की शुरुआत को चिह्नित करेगी और देश में 'भय, घृणा और हिंसा के माहौल' के खिलाफ एक संदेश देगी. पार्टी ने कहा कि यह आजादी के बाद वर्धा में पहली कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi