S M L

चुनाव आयोग ने कांग्रेस पर बदनाम करने की साजिश का आरोप लगाया

देश में साफ सुथरा चुनाव कराने की जो छवि आयोग ने अब तक बनाई है कांग्रेस उसे खराब करने की कोशिश कर रही है

Updated On: Oct 09, 2018 04:57 PM IST

FP Staff

0
चुनाव आयोग ने कांग्रेस पर बदनाम करने की साजिश का आरोप लगाया

चुनाव आयोग ने सोमवार को कांग्रेस पार्टी पर चुनाव आयोग का नाम खराब करने का आरोप लगाया. चुनाव आयोग का कहना है कि कांग्रेस पार्टी मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में आयोग द्वारा सही किए गए वोटर लिस्ट की अवहेलना करके आयोग का नाम खराब करने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस पार्टी और चुनाव आयोग के बीच की तकरार ने उस वक्त कड़वा रुख अख्तियार कर लिया जब चुनाव आयोग ने कहा कि वोटर लिस्ट को जून के महीने में भी सही कर दिया गया था.

कोर्ट ने मध्यप्रदेश और राजस्थान कांग्रेस प्रमुख कमल नाथ और सचिन पायलट की याचिका पर अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है.

आरोप प्रत्यारोप जारी:

चुनाव के वकील विकास सिंह ने जस्टिस एके सिकरी और अशोक भूषण की बेंच को बताया कि आयोग को कांग्रेस की तरफ 3 जून को बोगस वोटरों की शिकायत मिली थी. और पार्टी को 8 जून तक आयोग की तरफ से ये बता दिया गया था कि समस्या को ठीक कर दिया गया है. उन्होंने कहा कि- 31 जुलाई को ड्राफ्ट इलेक्टोरल रोल को पब्लिश कर दिया गया था. और उसमें जरुरी बदलाव भी कर दिए गए थे. लेकिन वोटर लिस्ट को सही कर देने के बाद भी कांग्रेस पुरानी गलतियों को ही दोहरा रही है. और आयोग को बदनाम करने की कोशिश कर रही है. देश में साफ सुथरा चुनाव कराने की जो छवि आयोग ने अब तक बनाई है उसे खराब करने की कोशिश कर रही है. ये और कुछ नहीं बल्कि आयोग को बदनाम करने के लिए नकली दस्तावेज हैं.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक कमलनाथ और सचिन पायलट की तरफ से पेश वकील कपिल सिब्बल और विवेक तन्खा ने मध्यप्रदेश और राजस्थान में बोगस वोटर साबित करने के लिए एक फोटो दिखाई जिसका इस्तेमाल वोटर लिस्ट में 36 बार हुआ है. इस मुद्दे पर उन्होंने सीबीआई जांच और उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की जो इस बोगस वोटर लिस्ट को बनाने में लिप्त हैं. साथ ही उन्होंने ये भी सवाल किया कि आखिर चुनाव आयोग किसके लिए काम कर रहा है? कांग्रेस ने आरोप लगाया कि 60 लाख बोगस वोटर है. और ईसी कहती है कि उसने 24 लाख ऐसे वोटरों का नाम मिटा दिया है. इसलिए कांग्रेस ने जांच की मांग की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi