Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

निर्भया की मां ने कहा-राहुल गांधी की वजह से मेरा बेटा पायलट बना

उन्होंने कहा कि राहुल के अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी कई बार फोन कर परिवार का हाल-चाल लिया था

FP Staff Updated On: Nov 02, 2017 06:03 PM IST

0
निर्भया की मां ने कहा-राहुल गांधी की वजह से मेरा बेटा पायलट बना

2012 में राजधानी दिल्ली में हुए निर्भया गैंगरेप केस ने पूरे देश को झकझोर दिया था. निर्भया की मां आशा देवी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का शुक्रिया अदा किया है. आशा देवी का कहना है कि निर्भया का भाई आज अगर पायलट है तो वह राहुल गांधी की वजह से ही है.

 इंटरव्यू में निर्भया की मां ने क्या कहा?

एक अंग्रेजी अखबार को दिए गए इंटरव्यू में निर्भया की मां ने ये बातें कही. उन्होंने बताया, 'निर्भया के जाने के बाद हम सब टूट गए थे. सब बिखर गया था. कई लोगों ने हमारी मदद की. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मदद का हाथ बढ़ाया था. आज उनकी बदौलत ही मेरा बेटा पायलट है.'

निर्भया की मां ने बताया, 'राहुल गांधी ने मेरे बेटे अमन (बदला हुआ नाम) के कॉलेज की पूरी पढ़ाई स्पॉन्सर की. राहुल समय-समय पर फोन कर बेटे को मोटिवेट भी करते थे.'

मुश्किल वक्त में भी खुद पर रखा कंट्रोल 

उन्होंने बताया, 'उस केस के बाद हम पर जैसे पहाड़ टूट पड़ा था. लगता था कि जैसे जिंदगी खत्म हो गई. लेकिन, अमन अपने लक्ष्य से भटका नहीं. इतने मुश्किल वक्त में भी खुद को कंट्रोल में रखा और 12वीं की पढ़ाई जारी रखी.'

निर्भया की मां के मुताबिक, 'जब राहुल गांधी को पता लगा कि वह आर्मी ज्वाइन करना चाहता है, तो राहुल ने ही उसे सलाह दी कि वह स्कूल खत्म होने के बाद पायलट की ट्रेनिंग करे.'

उन्होंने बताया, '2013 में सीबीएसई की परीक्षा देने के बाद अमन ने रायबरेली की इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान एकेडमी में एडमिशन ले लिया. उसके रहने, खाने और पढ़ने का सारा खर्चा राहुल गांधी ने उठाया. अपनी 18 महीने की ट्रेनिंग के दौरान वह लगातार निर्भया केस से जुड़े हुए अपडेट ले रहा था.'

निर्भया की मां ने बताया कि अमन की पढ़ाई खत्म हो गई है. अब गुरुग्राम में उसकी ट्रेनिंग चल रही है. जल्द ही अमन प्लेन उड़ाएगा. उन्होंने कहा कि राहुल के अलावा प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी कई बार फोन कर परिवार का हाल-चाल लिया था.

क्या है निर्भया कांड?

16 दिसंबर 2012 को दिल्ली के वसंत विहार इलाके में चलती बस में पांच बालिग और एक नाबालिग ने 23 साल की निर्भया के साथ बलात्कार किया था. निर्भया पैरामेडिकल की छात्रा थी. 29 दिसंबर को उसकी मौत हो गई.

निर्भया केस के सभी आरोपियों पर रेप और मर्डर का चार्ज लगा है. एक आरोपी की पुलिस कस्टडी में ही मौत हो गई थी. बाकी के चार आरोपियों को फांसी की सजा दी गई थी. एक नाबालिग आरोपी को तीन साल के लिए सुधार प्रक्रिया में भेजा गया था.

(न्यूज 18 से साभार)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi