S M L

राहुल गांधी को 'पप्पू' कहने वाले कांग्रेसी नेता की छुट्टी

विवेक प्रधान ने कहा है, कांग्रेस व्‍हाट्सएप ग्रुप पर किसी ने उनको फंसाने के लिए फोटोशॉप करके इसे डाल दिया

FP Staff Updated On: Jun 14, 2017 02:16 PM IST

0
राहुल गांधी को 'पप्पू' कहने वाले कांग्रेसी नेता की छुट्टी

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी को अभी तक तो विपक्ष पार्टी वाले ही पप्पू कहते थे, लेकिन अब तो कांग्रेस के ही जिला अध्यक्ष ने राहुल गांधी को पप्पू बताकर व्हाट्सएप ग्रुप में पोस्ट डाला. इसके बाद कांग्रेस ने कांग्रेस नेता को पार्टी से बाहर कर दिया.

मेरठ के जिलाध्यक्ष विनय प्रधान ने कांग्रेस के व्हाट्सएप ग्रुप में एक पोस्ट शेयर किया. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक इस वजह से उस नेता को दंडित करते हुए पार्टी के पद से हटा दिया गया.

कांग्रेस के विरोधी दल इस कारण पार्टी को निशाना बना रहे हैं. मेरठ कांग्रेस नेता विवेक प्रधान ने द टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बात करते हुए कहा कि कांग्रेस व्‍हाट्सएप ग्रुप पर किसी ने उनको फंसाने के लिए फोटोशॉप करके इसे डाल दिया.

रिपोर्ट्स के मुताबिक जो पोस्ट उन्होंने डाली थी उसमें राहुल गांधी की तारीफ ही की गई थी लेकिन उन्हें पप्पू के नाम से संबोधित किया गया था.

हालांकि कांग्रेस ने अभी तक इस मसले पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है लेकिन बीजेपी ने कहा कि इससे कांग्रेस के भीतर की 'चापलूसी' जाहिर होती है.

बीजेपी के प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने कहा, 'पप्‍पू कहने पर तो तुरंत दंडित कर दिया गया लेकिन आर्मी चीफ को सड़क का गुंडा कहने पर किसी को दंडित नहीं किया गया.'

दरअसल संबित पात्रा का इशारा कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित की तरफ था. संदीप दीक्षित ने आर्मी चीफ को शनिवार को सड़क का गुंडा कहा था. हालांकि विवाद बढ़ने पर उन्‍होंने माफी मांग ली थी. इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए राहुल गांधी ने कहा था कि संदीप दीक्षित का यह बयान पूरी तरह अस्‍वीकार्य है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार इस मामले में विवेक प्रधान का कहना है कि वो मैसेज उन्होंने नहीं डाला था और उन्हें राहुल गांधी से मिलकर बात करने का भी मौका नहीं मिला. उनका कहना है, 'मैं राहुल गांधी की बहुत इज्जत करता हूं और उनके लिए ऐसी भाषा का इस्तेमाल कभी नहीं कर सकता. पार्टी को मुझे पद से हटाने से पहले एक बार मेरी बात सुन लेनी चाहिए थी.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi