S M L

NTPC दुर्घटना की जांच के लिए समिति गठित, एक महीने में आएगी रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में स्थित कंपनी की 1550 मेगावाट क्षमता की फिरोज गांधी ऊंचाहार ताप विद्युत संयंत्र में एक नवंबर को बॉयलर फटने की घटना में कई लोग हताहत हुए थे

FP Staff Updated On: Nov 03, 2017 04:13 PM IST

0
NTPC दुर्घटना की जांच के लिए समिति गठित, एक महीने में आएगी रिपोर्ट

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी NTPC के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक गुरदीप सिंह ने कहा कि पावर प्लांट में दुर्घटना के कारणों की जांच के लिए कार्यकारी निदेशक एस के राय की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है और यह एक महीने में रिपोर्ट देगी.

उन्होंने बताया कि ऊंचाहार बिजली संयंत्र विस्फोट में मरने वालों की संख्या 32 हो गई है. वहीं 12 घायल मरीजों को इलाज के लिए दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती करवाया जाएगा.

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में स्थित कंपनी की 1550 मेगावाट क्षमता की फिरोज गांधी ऊंचाहार ताप विद्युत संयंत्र में एक नवंबर को बॉयलर फटने की घटना में कई लोग हताहत हुए थे.

सिंह ने कहा, ‘ऊंचाहार बिजली संयंत्र में दुर्घटना में मरने वालों की संख्या 32 पहुंच गई है. दुर्घटना के कारणों की जांच के लिए कार्यकारी निदेशक एस के राय की अध्यक्षता में समिति गठित की गई है. समिति एक महीने में रिपोर्ट देगी.’

उन्होंने यह भी कहा कि NTPC संयंत्र विस्फोट अपनी तरह की दुर्लभ घटना है, इकाई का प्रबंधन काफी अनुभवी लोगों के हाथों में था.

NTPC के चेयरमैन एवं प्रबंध निदेशक ने कहा कि इकाई को फिर से चालू करने में लगभग तीन से छह महीने का समय लगेगा. उल्लेखनीय है कि विस्फोट की घटना के बाद संयंत्र की 500 मेगावाट क्षमता की छठी इकाई बंद है. कुल 1550 मेगावाट क्षमता के इस संयंत्र में 1,050 मेगावाट क्षमता की इकाइयां परिचालन में हैं. इस संयंत्र से नौ राज्यों को बिजली की आपूर्ति की जाती है.

बिजली और नवीन एवं नवीकरणीय ऊर्जा मंत्री आर.के सिंह ने उत्तर प्रदेश के बिजली मंत्री श्रीकांत शर्मा के साथ पावर प्लांट का दौरा किया.

उन्होंने घटना में मारे गए लोगों के परिवार को 20 लाख रुपए, गंभीर रूप से घायलों को 10 लाख रुपए तथा अन्य जख्मी को 2 लाख रुपए के अनुग्रह राशि देने की घोषणा की.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi