S M L

के एम जोसेफ के नाम पर विचार के लिए 11 मई को कॉलेजियम की बैठक

चेलमेश्वर ने चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा को एक लेटर लिखा था, जिसके बाद यह बैठक बुलाई गई है

FP Staff Updated On: May 10, 2018 10:04 PM IST

0
के एम जोसेफ के नाम पर विचार के लिए 11 मई को कॉलेजियम की बैठक

चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने शुक्रवार को कॉलेजियम की एक बैठक बुलाई है. उम्मीद है कि इस बैठक में टॉप 5 जज मिलकर पदोन्नति के लिए जस्टिस के एम जोसेफ काम दोबारा सुप्रीम कोर्ट को भेजेंगे. अभी तक की मिली जानकारी के मुताबिक, यह बैठक 1 बजे के करीब हो सकती है.

सुप्रीम कोर्ट के सबसे वरिष्ठ जजों में से एक जस्टिस जस्ती चेलमेश्वर ने चीफ जस्टिस को लेटर लिखकर कहा था कि के एम जोसेफ की पदोन्नति के लिए तुरंत एक बैठक की जाए. तीन अन्य जजों ने भी चीफ जस्टिस से मिलकर जोसेफ के नाम पर दोबारा विचार करने को कहा था. ये तीनों जज भी कॉलेजियम का हिस्सा हैं. के एम जोसेफ उत्तराखंड हाईकोर्ट के जज हैं.

दरअसल कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने जस्टिस जोसफ की पदोन्नति को लेकर जो आपत्तियां उठाई थीं उनका क्रमवार जवाब जस्टिस चेलामेश्वर ने अपने पत्र में दिया था. जस्टिस चेलामेश्वर 22 जून को सेवानिवृत्त हो रहे हैं. कॉलेजियम की बैठक बुधवार को होने की उम्मीद थी लेकिन जस्टिस चेलामेश्वर छुट्टी पर थे. सीजेआई दीपक मिश्रा और जस्टिस चेलामेश्वर के अलावा कॉलेजियम के दूसरे सदस्य जस्टिस रंजन गोगोई, एम बी लोकुर और कुरियन जोसफ हैं.

जस्टिस कुरियन जोसफ ने पिछले हफ्ते अपने केरल दौरे के दौरान कथित तौर पर यह स्पष्ट किया था कि वह उत्तराखंड उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के मुद्दे पर कॉलेजियम की अनुशंसा पर फिर से जोर देने के पक्ष में हैं. कॉलेजियम की बैठक कब होगी इसे लेकर अभी कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Social Media Star में इस बार Rajkumar Rao और Bhuvan Bam

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi