S M L

कैंपस में सरस्वती पूजा मनाने की अनुमति को कोचीन यूनिवर्सिटी के VC ने किया खारिज

यूनिवर्सिटी के ज्वाइंट रजिस्ट्रार ने बताया कि यह धर्मनिरपेक्ष कैंपस है, और इसमें किसी धर्मविशेष के समारोहों को अनुमति नहीं दी जा सकती

Updated On: Feb 07, 2019 12:48 PM IST

FP Staff

0
कैंपस में सरस्वती पूजा मनाने की अनुमति को कोचीन यूनिवर्सिटी के VC ने किया खारिज

कोचीन यूनिवर्सिटी ऑफ साइंस एंड टेक्नोलॉजी के उत्तर भारतीय क्षात्रों द्वारा कैंपस में सरस्वती पूजा मनाने की अनुमति को वाइस चांसलर ने खारिज कर दिया है. यूनिवर्सिटी के ज्वाइंट रजिस्ट्रार ने बताया कि वाइस चांसलर ने उत्तर भारतीय विद्यार्थियों के कोचीन यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ इंजीयनिरिंग के कुट्टानाड कैंपस में 'सरस्वती पूजा' आयोजित करने के अनुरोध को खारिज कर दिया है, क्योंकि यह धर्मनिरपेक्ष कैंपस है, और इसमें किसी धर्मविशेष के समारोहों को अनुमति नहीं दी जा सकती.'

पिछले साल भी कैंपस धार्मिक उन्माद के कारणों से चर्चा में था. बीते 25 जनवरी के आसपास कॉलेज को अनिश्चितकाल के लिए बंद कर दिया गया था, क्योंकि इसके परिसर में एक कार्यक्रम के दौरान कथित तौर पर बीफ कटलेट परोसने के बाद छात्रों के दो समूहों के बीच झड़प हो गई थी.

छात्रों के एक वर्ग, जिनमें ज्यादातर उत्तर भारत के थे, ने आरोप लगाया था कि 25 जनवरी को अलाप्पुझा के पास कॉलेज परिसर में एक सेमिनार के दौरान, उन्हें बीफ परोसा गया. जबकि ये सारे छात्र शाकाहारी थे.

छात्रों के समूह ने आरोप लगाया था कि कैंपस में सरस्वती पूजा मनाने के कारण छात्रों का एक वर्ग नाराज था. बदले की भावना में उन्होंने उत्तर भारतीय छात्रों को बीफ परोसी.

सरस्वती पूजा उत्तर भारतीय लोगों खासकर छात्रों के प्रमुख त्योहारों में से एक है. इस बार यह 9 फरवरी को मनाई जाने वाली है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi