S M L

गोरक्षपीठ में सीएम योगी ने चढ़ाई खिचड़ी, आम लोगों के लिए खुला मठ का कपाट

मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार महंत योगी आदित्यनाथ ने गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में पूजा-अर्चना करने के बाद बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाई

Updated On: Jan 15, 2018 04:56 PM IST

FP Staff

0
गोरक्षपीठ में सीएम योगी ने चढ़ाई खिचड़ी, आम लोगों के लिए खुला मठ का कपाट

गोरखनाथ मंदिर में हर साल की तरह इस साल भी लाखों श्रद्धालु खिचड़ी चढ़ाने आए. लेकिन इस बार मकर संक्रांति कुछ खास रही. मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार महंत योगी आदित्यनाथ ने गोरक्षपीठाधीश्वर के रूप में पूजा-अर्चना करने के बाद बाबा गोरखनाथ को खिचड़ी चढ़ाई.

उसके बाद मंदिर के पट श्रद्धालुओं को खिचड़ी चढ़ाने के लिए खोल दिए गए. खिचड़ी चढ़ाने का सिलसिला पूरा 1 माह तक चलेगा. गोरक्षपीठाधीश्वर महंत योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर सभी को मकर संक्रांति की शुभकामनाएं देते हुए गोरखनाथ बाबा को खिचड़ी चढ़ाने के महत्व के बारे में बताया.

यहां हर साल देश और विदेश से श्रद्धालु खिचड़ी चढ़ाने के लिए आते हैं. लेकिन, इस बार योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनने के बाद गोरखनाथ मंदिर आने में दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं की संख्या काफी बढ़ गई.

विरोधियों पर किया हमला

इस मौके पर सीएम योगी ने अपने राजनीतिक विरोधियों के लिए भी सदबुद्धि की कामना की. सीएम ने कहा कि प्रदेश के विकास के लिए राहुल गांधी और अखिलेश सोचें. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी अपने संसदीय क्षेत्र अमेठी आएं और यहां के विकास के बारे में सोचें.

उन्होंने एसपी और अखिलेश पर निशाना साधते हुए कहा कि आजमगढ़ में शराब पीने से हुई मौतों के लिए एसपी जिम्मेदार है. उनके लोग जहरीली अवैध शराब बनाते हैं. जिसे पीने से प्रदेश में ऐसी घटनाएं हो रही हैं. राजनीतिक द्वेष के कारण सीएम आवास और लखनऊ की सड़कों पर एसपी के लोगों ने सड़ा और कटा आलू फेंक दिया.

इस तरह की हरकत करने की बजाय अखिलेश प्रदेश और देश के विकास के बारे में सोचें. प्रदेश में ताबड़तोड़ हो रहे एनकाउंटर पर मानवाधिकार आयोग की राज्य सरकार को मिली नोटिस पर योगी ने कहा कि सूबे की बहू-बेटियों की सुरक्षा और अपराधियों पर नकेल कसने के लिए जो कदम उठाना होगा उठाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi