S M L

10वीं के छात्र ने बनाया UP के DGP का फेक ट्विटर अकाउंट, अधिकारियों को देता रहा आदेश

डीजीपी ऑफिस में एक महीना पहले दर्ज किए गए मामले के बाद बच्चे की इस चालाकी के बारे में पता चला

Updated On: Apr 23, 2018 09:58 AM IST

FP Staff

0
10वीं के छात्र ने बनाया UP के DGP का फेक ट्विटर अकाउंट, अधिकारियों को देता रहा आदेश

उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से एक अजीबो-गरीब मामला सामने आया है जिसमें 10वीं का छात्र यूपी के डीजीपी का फेक ट्विटर अकाउंट बनाकर अधिकारियों को आदेश देता रहा. इस मामले से हंगामा तब मचा जब इस ट्विटर अकाउंट पर दिए जा रहे आदेशों पर गोरखपुर पुलिस ने एक्शन लिया. बताया जा रहा है कि धोखाधड़ी मामले में पुलिस के एक्शन न लेने से तंग आकर बच्चे ने ये फेक अकाउंट बनाया था. इस मामले में बच्चे के भाई से दुबई में नौकरी दिलवाने के नाम पर 45 हजार रुपए लिए गए थे. इसके बाद बच्चे ने इसके खिलाफ शिकायत भी की थी मगर कोई कार्रवाई नहीं की गई.

फेक अकाउंट पर मिलने वाले आदेशों को डीजीपी का आदेश समझकर गोरखपुर पुलिस ने एक्शन ले लिया और फेक अकाउंट बनाने वाले बच्चे के भाई को 30 हज़ार रुपए वापस भी दिलवा दिए. इसके बाद डीजीपी को इस बात की जानकारी दी गई तो पता चला कि उनकी ओर से ऐसे कोई भी ऑर्डर नहीं दिए गए थे. पुलिस ने इस मामले में शिकायत दर्ज की और मामले की छानबीन शुरू कर दी. साइबर सेल ने गोरखपुर जिले में फोन को ट्रेस करते हुए इस साइबर फ्रॉड का पता लगाया.

इसके बाद पुलिस ने बच्चे और उसके दोस्त को फेक अकाउंट बनाने के जुर्म में गिरफ्तार किया, लेकिन उसके बाद डीजीपी के आदेश पर कड़ी चेतावनी देते हुए बच्चों को छोड़ दिया गया.

डीजीपी ने कहा, 'हमने बच्चों के प्रति सुधारात्मक रवैया अपनाते हुए उन्हें छोड़ दिया है, क्योंकि उनके खिलाफ किसी भी तरह का एक्शन उनके भविष्य को प्रभावित कर सकता है.'

डीजीपी ऑफिस में एक महीना पहले दर्ज किए गए मामले के बाद बच्चे की इस चालाकी के बारे में पता चला था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi