S M L

मई में कराची में खड़ी थी चीन की परमाणु पनडुब्बी: रिपोर्ट्स

भारत के लिए यह समस्या वाली खबर है कि क्योंकि कराची तट भारत से कुछ ही दूर है.

Updated On: Jan 06, 2017 03:39 PM IST

FP Staff

0
मई में कराची में खड़ी थी चीन की परमाणु पनडुब्बी: रिपोर्ट्स

पिछली साल मई में आप कहां थे? मोदी सरकार दो साल पूरे होने का रिपोर्ट कार्ड दे रही थी. भारत और पाकिस्तान की टीमें कबड्डी वर्ल्ड कप फाइनल में आमने-सामने थीं. करीबन उसी समय चीन की एक परमाणु पनडुब्बी भारत से कुछ किलोमीटर दूरी पर खड़ी थी. गूगल अर्थ की एक तस्वीर के आधार पर दावा किया गया है कि चीन की एक परमाणु पनडुब्बी मई 2016 कराची बंदरगाह पर खड़ी थी. यह भारत के लिए काफी असहज करने वाली खबर है.

यह तस्वीर ट्वीटर पर @rajfortyseven ने पोस्ट की है. @rajfortyseven खुद को सैटेलाइट इमेजरी एक्सपर्ट बताते हैं. वह खासतौर से न्यूक्लियर पोतों और पनडुब्बियों की गतिविधियों पर नजर रखते हैं.

उनका कहना है कि इस तस्वीर में चीनी नौसेना की टाइप 091 'हान' क्लास लड़ाकू पनडुब्बी को साफ देखा जा सकता है. यह पनडुब्बी चीन द्वारा तैनात की गई शुरुआती पनडुब्बियों में से एक है. इस तस्वीर को गूगल अर्थ की हिस्टॉरिकल इमेजरी आइकॉन पर क्लिक कर मई 2016 तक स्क्रॉल कर देखा जा सकता है.

एनडीटीवी ने भारतीय नौसैनिक विशेषज्ञों के हवाले से कहा है कि इस संभावना से भी इंकार नहीं किया कि तस्वीर में दिख रही पनडुब्बी अधिक सक्षम 093 'शांग' क्लास पनडुब्बी भी हो सकती है. इसमें परमाणु रिएक्टर समेत अत्याधुनिक तकनीक से युक्त नए हथियार फिट हैं.

पिछले महीने नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने कहा था, 'चीनी सेना के नौसेनिक पोत और पनडुब्बियों पर भारतीय नौसेना करीबी नजर रखती है.'

चीन की पनडुब्बी के कराची पोर्ट में देखे जाने से जाहिर है कि पाकिस्तान खुलकर चीन की सैन्य मदद कर रहा है. भारत के लिए यह समस्या वाली खबर है कि क्योंकि कराची तट भारत के कुछ सौ किलोमीटर ही दूर है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi