S M L

चीन ने कहा, घरेलू मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए मोदी बढ़ा रहे हैं विवाद

नरेंद्र मोदी का भाषण दर्शाता है कि वह अपने देश के लोगों का ध्यान घरेलू समस्या से विदेशी समस्या की तरफ भटकाना चाहते हैं

Updated On: Aug 17, 2017 10:06 AM IST

FP Staff

0
चीन ने कहा, घरेलू मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए मोदी बढ़ा रहे हैं विवाद

डोकलाम और लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध के बीच वहां के विशेषज्ञ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. शंघाई एकेडमी ऑफ सोशल साइंस में इंस्टीट्यूट ऑफ इंटरनेशनल रिलेशन के फेलो ह्यू झीयओंग ने कहा है कि नरेंद्र मोदी देश के घरेलू मुद्दे से ध्यान भटकाने के लिए चीन के साथ गतिरोध खत्म करने का प्रयास नहीं कर रहे हैं.

चीन की न्यूज़ वेबसाइट ग्लोबल टाइम्स से ह्यू झीयओंग ने कहा, भारत के स्वतंत्रता दिवस समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भाषण यह दर्शाता है कि वह अपने देश के लोगों का ध्यान घरेलू समस्या से विदेशी समस्या की तरफ भटकाना चाहते हैं. इसमें सुरक्षा का मुद्दा खासतौर पर है.

चीनी विशेषज्ञ ने यूपी के गोरखपुर में अस्पताल में हुई बच्चों की मौत पर भी नरेंद्र मोदी पर सवाल खड़े किए हैं.

ह्यू झीयओंग ने कहा, भारत में कई घरेलु समस्याएं हैं, जिनमें अभी हाल ही में एक अस्पताल में हुई दर्जनों बच्चों की मौत भी शामिल है. वहीं, कई मुद्दों पर वहां प्रदर्शन जारी है. वह इन मुद्दों के साथ डील करने में असमर्थ हैं, इसलिए चीन के साथ परेशानी खड़ी करने पर ध्यान दिए हुए हैं.

यूनिवर्सिटी ऑफ इंटरनेशनल रिलेशन में एसोसिएट प्रोफेसर चू यिन ने कहा, चीन भारत के प्रति सहिष्णुता नहीं दिखाएगा. लेकिन यह समय बहुत महत्वपूर्ण है. साल 1959 से 1962 तक चीन ने भारत को अपनी सोच बदलने के लिए तीन साल दिए थे.

बता दें कि प्रधानमंत्री ने लाल किले के प्राचीर से कहा था, 'हमारी सेना समेत सभी सुरक्षा एजेंसियों ने हर मौके पर अपना करतब दिखाया है. ये सभी बलिदान देने में कभी पीछे नहीं रहे हैं. आतंकवाद से लेकर घुसपैठ तक हर जगह उन्होंने अपना दम दिखाया है. सर्जिकल स्ट्राइक के बाद पूरी दुनिया ने हमारी ताकत देख ली है.'

(साभार न्यूज़ 18)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi