Co Sponsor
In association with
In association with
S M L

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: 9 में 5 CCTV खराब, बचे 4 में नहीं मिला सुराग

हरियाणा बीजेपी के उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी ने इस मामले पर कहा है कि लड़की को रात को बाहर नहीं जाना चाहिए था.

FP Staff Updated On: Aug 07, 2017 12:05 PM IST

0
चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस: 9 में 5 CCTV खराब, बचे 4 में नहीं मिला सुराग

चंडीगढ़ आईएएस की बेटी का बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष के बेटे द्वारा पीछा करने और छेड़छाड़ के मामले में एक और खुलासा हो रहा है. चंडीगढ़ पुलिस का दावा है कि जिस रास्ते में पीछा किया गया, उसके 5 लोकेशन के सीसीटीवी फुटेज गायब हैं.

बताया जा रहा है कि उस रास्ते में कुल 9 सीसीटीवी कैमरे लगे थे जिनमें से सिर्फ 4 ही काम करते हुए मिले. यही नहीं न्यूज18इंडिया को सूत्रों के हवाले से ये भी जानकारी मिल रही है कि पुलिस को इन 4 सीसीटीवी फुटेज में घटना से जुड़ी कोई अहम चीजें नहीं मिली हैं.

29 साल की युवती जिसके साथ छेड़खानी की घटना हुई, ने दावा किया कि हरियाणा बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बारला और उसके दोस्त आशीष कुमार ने पिछले शुक्रवार को उसका पीछा किया. इसके बाद अपनी एसयूवी कार को उसकी कार के बराबर में लगातार करीब लाकर चलाता रहा और कई बार तो रास्ता रोकने की भी कोशिश की.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, इस मामले में सीसीटीवी फुटेज एक महत्वपूर्ण दस्तावेज साबित हो सकता है. हरियाणा बीजेपी के उपाध्यक्ष रामवीर भट्टी ने इस मामले को लेकर विवादित बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि लड़की को रात के 12 बजे के बाद बाहर नहीं जाना चाहिए था. वो रात को इतनी लेट क्यों ड्राइव कर रही थी. माहौल ठीक नहीं है. हमें अपनी हिफाजत खुद से करनी होगी.

जबकि बीजेपी के कुरुक्षेत्र के सांसद राजकुमार सैनी ने प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष से इस्तीफा देने की मांग की है. उन्होंने कहा है कि सुभाष बराला को चंडीगढ़ छेड़छाड़ मामले में इस्तीफा दे देना चाहिए.

कांग्रेस उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी ने चंडीगढ़ में लड़की से बदसलूकी और पीछा करने के मामले में भाजपा सरकार पर निशाना साधा है. उन्‍होंने घटना की आलोचना करते हुए दोषियों पर कार्रवाई करने को कहा. साथ ही कहा कि दोषियों के साथ सांठगांठ मत कीजिए.

राहुल गांधी के टि्वटर अकाउंट से लिखा गया, चंडीगढ़ में एक युवती के अपहरण का प्रयास और छेड़छाड़ की आलोचना करता हूं. बीजेपी सरकार को दोषियों को सजा देनी चाहिए. दोषियों ओर उनकी मानसिकता से सांठ-गांठ मत कीजिए.

(न्यूज 18 के इनपुट के साथ)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
AUTO EXPO 2018: MARUTI SUZUKI की नई SWIFT का इंतजार हुआ खत्म

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi