विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

ड्रिंक एंड ड्राइव रोकने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन ने उठाया ये कदम!

इस कदम का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि कोई व्यक्ति शराब का सेवन नियम के तहत ही करे

Bhasha Updated On: Sep 07, 2017 09:56 PM IST

0
ड्रिंक एंड ड्राइव रोकने के लिए चंडीगढ़ प्रशासन ने उठाया ये कदम!

'विकास बराला कांड' के बाद चंडीगढ़ प्रशासन लोगों की सुरक्षा को लकर ज्यादा सजग हो गया है. प्रशासन की ओर से कहा गया है कि चंड़ीगढ़ शहर के पब्स और बार को अपने परिसर में ब्रेथलाइजर लगाने के निर्देश दिए हैं. बता दें कि 'ब्रेथलाइजर' यंत्र किसी व्यक्ति में शराब की मात्रा मापने के काम आता है.

प्रशासन के मुताबिक इस कदम का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि कोई व्यक्ति शराब का सेवन नियम के तहत कानूनी दायरे में ही करे. इससे शराब पीकर गाड़ी चलाने के मामलों पर रोक लगाने में मदद मिलेगी. आबकारी और कराधान विभाग ने रेस्टोरेंट और होटलों को भी यह निर्देश दिया है कि वो यह सुनिश्चित करें कि कोई भी ग्राहक शराब का सेवन कानूनी सीमा के तहत ही करे.

चंडीगढ़ के आबकारी और कराधान विभाग ने कल जारी आदेश में कहा है कि लोगों को तय सीमा से अधिक शराब का सेवन न करने के प्रति जागरूक करने के लिए ये आदेश जारी किया जा रहा है.

जागरुकता बढ़ाने को उठाया कदम

साथ ही इसमें पब या बार मालिकों से कहा गया है कि सीमा से अधिक शराब का सेवन करने की अनुमति नहीं देने के लिए आप सभी को अपने परिसरों में यह आदेश जारी होने के सात दिन के भीतर ब्रेथलाजर लगाने का निर्देश दिया जाता है. उनसे कहा गया है कि वे इस बारे में विभाग के पास 13 सितंबर तक पालन रिपोर्ट जमा कराएं.

आपको बता दें कि वाहन ड्राइव करने के लिए खून में शराब की सीमा प्रति 100 एमएल पर 30 एमजी से अधिक नहीं होनी चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi