S M L

पेट्रोल में अनिवार्य रूप से 10 प्रतिशत एथनॉल मिलाने पर विचार करे केंद्र: एनजीटी

पीठ ने कहा, ‘इसी के साथ हम केंद्र सरकार को सुझावों पर अमल करने का निर्देश देते हुए याचिका का निपटान करते हैं.’

Updated On: Oct 26, 2018 09:34 PM IST

Bhasha

0
पेट्रोल में अनिवार्य रूप से 10 प्रतिशत एथनॉल मिलाने पर विचार करे केंद्र: एनजीटी
Loading...

राष्ट्रीय हरित न्यायाधिकरण (एनजीटी) ने प्रदूषण कम करने और ईंधन खर्च घटाने को लेकर देश भर में पेट्रोल में अनिवार्य रूप से 10 प्रतिशत एथनॉल मिलाने पर केंद्र सरकार से विचार करने को कहा है. एनजीटी ने इस बाबत उसके समक्ष आई एक याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार को यह निर्देश दिया.

एनजीटी के चेयरपर्सन न्यायमूर्ति आदर्श कुमार गोयल की अध्यक्षता वाली एक पीठ ने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय तथा कृषि मंत्रालय को आगरा के एक चिकित्सक द्वारा दायर याचिका पर विचार करने को कहा है.

पीठ ने कहा, ‘हमें ऐसी कोई वजह नहीं दिखती है कि आवेदक के सुझावों पर संबंधित विभागों द्वारा खुद विचार क्यों नहीं किया जाना चाहिए. इस मुद्दे पर न्यायाधिकरण की ओर से किसी न्यायिक निर्णय की आवश्यकता चाहे नहीं हो लेकिन पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय और कृषि मंत्रालय द्वारा इस पर विचार किया जाना चाहिए.’

पीठ ने कहा, ‘इसी के साथ हम केंद्र सरकार को सुझावों पर अमल करने का निर्देश देते हुए याचिका का निपटान करते हैं.’

न्यायाधिकरण की तरफ से यह आदेश डा. संजय कुलश्रेष्ठ की याचिका पर दिया है. उन्होंने कहा है कि एथनॉल को ईंधन के साथ मिलाने से वाहन प्रदूषण में कमी आयेगी. याचिका में दावा किया गया है कि सरकार की यह योजना है कि वाहन ईंधन में एथनाल का मिश्रण किया जाना चाहिये लेकिन मात्र दो प्रतिशत एथनॉल ही इसमें मिलाया जा रहा है.

याचिका में कहा गया है कि पेट्रोल में अधिक मात्रा में एथनॉल मिलाये जाने से प्रदूषण कम होगा और ईंधन की लागत भी कम होगी.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi