S M L

12वीं के इकोनॉमिक्स विषय का कल Re-Exam: CBSE ने जारी किए नए एडमिट कार्ड

बुधवार को होने वाले 12वीं इकोनॉमिक्स के री-एग्जाम में लगभग साढ़े 4 लाख छात्रों के शामिल होने की संभावना है. यह परीक्षा सुबह साढ़े 10 बजे शुरू होकर दोपहर डेढ़ बजे तक चलेगी

Updated On: Apr 24, 2018 04:12 PM IST

FP Staff

0
12वीं के इकोनॉमिक्स विषय का कल Re-Exam: CBSE ने जारी किए नए एडमिट कार्ड

केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) बुधवार को देश भर में 12वीं क्लास के इकोनॉमिक्स विषय का दोबारा एग्जाम लेगा. पहले यह परीक्षा 26 मार्च को ली गई थी मगर पेपर लीक हो जाने के बाद इसे रद्द घोषित कर दिया गया था.

25 अप्रैल को होने वाले इस एग्जाम से पहले छात्रों और उनके अभिभावकों को इन 5 जरूरी बातों को जान लेना चाहिए.

1. बुधवार को इकोनॉमिक्स की होने वाली परीक्षा के लिए सीबीएसई ने नया एडमिट कार्ड जारी किया है.

2. परीक्षा का कार्यक्रम- एग्जाम शुरू होने और खत्म का समय पहले जैसा ही होगा. परीक्षा सुबह साढ़े 10 बजे शुरू होगी और दोपहर डेढ़ बजे तक चलेगी. छात्रों के लिए जरूरी है कि वो तय समय पर परीक्षा केंद्रों पर पहुंचें.

3. बोर्ड के नए निर्देशों के अनुसार छात्रों को सुबह 10 बजे के बाद एग्जाम हॉल में प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा. जब तक कि उनके पास बोर्ड से इसके लिए विशेष अनुमति हो. इससे बेवजह की परेशानी हो सकती है. इसलिए, सभी छात्रों से अनुरोध है कि वो सुबह साढ़े 9 बजे तक परीक्षा केंद्र पर उपस्थित हो जाएं और 10 बजे तक एग्जाम हॉल में अपना स्थान ग्रहण कर लें.

4. सीबीएसई द्वारा एग्जाम के पेपर, सेंटर पर सुबह ही भेजे जाने की संभावना है. इकोनॉमिक्स और गणित पेपर लीक घटना के बाद बोर्ड ने सेंटर पर एग्जाम के ही दिन सुबह पेपर भेजना शुरू किया है. ऐसा करने के पीछे बोर्ड का मकसद दोबारा पेपर लीक की घटना होने से रोकना है.

5. जानकारों ने बुधवार को लिए जाने वाले एग्जाम पेपर की कठिनाई स्तर (डिफिकल्टी लेवल) पहले जैसे (26 मार्च, 2018) ही होने की बात कही है. हालांकि परीक्षा में कोई भी सवाल रिपीट होने की संभावना नहीं के बराबर है. सीबीएसई बोर्ड ने नए सिरे से एग्जाम पेपर सेट किया है. इसलिए छात्रों को सलाह दी जाती है कि वो इसके लिए परेशान न हों.

CBSE-Building

बुधवार की परीक्षा के बाद सीबीएसई पंजाब के छात्रों के लिए 10वीं और 12वीं का एग्जाम लेगा. 2 अप्रैल को बुलाए गए भारत बंद के दौरान कानून-व्यवस्था की स्थिति के मद्देनजर राज्य में इन परीक्षाओं को टाल दिया गया था. जानकारों के मुताबिक परीक्षाओं में इस देरी का असर नतीजे घोषित करने पर ज्यादा नहीं पड़ेगा. बुधवार को होने वाली सीबीएसई बोर्ड की 12वें की परीक्षा में तकरीबन साढ़े 4 लाख छात्रों के शामिल होने की संभावना है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi