S M L

CBSE 10th Result: 499 अंकों के साथ देश भर में टॉप आईं UP की दो छात्राएं

इस साल दसवीं बोर्ड का पास परसेंटेज 86.70 फीसदी रहा. अगर लड़कियों के पास परसेंटेज पर बात की जाए तो उनका पास परसेंटेज 88.67 फीसदी रहा

FP Staff Updated On: May 29, 2018 06:34 PM IST

0
CBSE 10th Result: 499 अंकों के साथ देश भर में टॉप आईं UP की दो छात्राएं

सीबीएसई ने मंगलवार को कक्षा 10वीं के नतीजे घोषित कर दिए हैं. सीबीएसई में कुल चार छात्रों ने 500 में से 499 हासिल कर टॉप किया है. इस में से दो य़ूपी की छात्राएं हैं. शामली के स्कॉटिश इंटरनेशनल स्कूल की नंदिनी गर्ग और बिजनौर के आरपी पब्लिक स्कूल की रिमझिम अग्रवाल ने 499 अंक हासिल कर प्रदेश और जिले का मान बढ़ाया है. जबकि एसडी पब्लिक स्कूल मुजफफरनगर के अक्षत वर्मा ने 498 अंक लेकर देश में दूसरा स्थान प्राप्त किया.

नंदिनी और रिमझिम के अलावा डीपीएस गुड़गांव के प्रखर मित्तल और भवन विद्यालय कोचीन की श्रीलक्ष्मी जी ने टॉप किया है.

नंदिनी ने नहीं ली थी कोई कोचिंग

अपनी बेटी की उपलब्धि पर खुशी जाहिर करते हुए नंदिनी की मां ने बताया कि उनकी बेटी का सपना है कि वो शामलि और पूरे देश का नाम रोशन करे. पढ़ाइ के अलावा वो खेलकूद, डांस और पेंटिंग में ही आगे रहती है. उसकी मेहनत और लगन की वजह से ही आज ये संभव हो पाया. नंदिनी की मां ने बताया कि नंदिनी ने बिना किसी कोचिंग के, केवल सेल्फ स्टडीज के बल पर ही ये मुकाम हासिल किया.

पिता राजीव गर्ग भी बेटी की इस उपलब्धि पर गौरवान्वित महसूस कर रहे हैं. उनका कहना है कि नंदिनी काफी फोकस लड़की है. वह डेली 5 घंटे पढ़ती थी. उसने कोई भी कोचिंग नहीं ली. इसका श्रेय उसे तो जाता ही है साथ ही साथ टीचर्स को भी जाता.

इस साल लड़कियों ने मारी बाजी

इस साल दसवीं बोर्ड का पास परसेंटेज 86.70 फीसदी रहा. अगर लड़कियों के पास परसेंटेज पर बात की जाए तो उनका पास परसेंटेज 88.67 फीसदी रहा. इसके अलावा लड़कों का पास परसेंटेज 85.32 फीसदी रहा.

बता दें इस साल 16.38 लाख स्टूडेंट्स ने दसवीं बोर्ड की परीक्षा दी थी. इसमें से 9,67,325 लाख पुरुष कैंडिडेट और 6,71,103 महिला कैंडिडेट ने ये परीक्षा दी थी. देशभर के 4453 सेंटर्स में ये परीक्षा आयोजित की गई थी. स्टूडेंट्स बोर्ड की ऑफिशियल वेबसाइट cbseresults.nic.in या cbse.nic.in पर चेक कर सकते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
International Yoga Day 2018 पर सुनिए Natasha Noel की कविता, I Breathe

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi