S M L

CBI Vs CBI: अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी की शिकायत करने वाले सना को नहीं ढूंढ सकी सीबीआई

मामले की जांच की जांच कर रहे सीबीआई अधिकारी ने दिल्ली के एक कोर्ट को बताया कि इस मामले में शिकायतकर्ता हैदराबाद के बिजनेसमैन सतीश बाबू साना को सीबीआई नहीं ढूंढ सकी है

Updated On: Nov 01, 2018 09:28 AM IST

FP Staff

0
CBI Vs CBI: अस्थाना के खिलाफ रिश्वतखोरी की शिकायत करने वाले सना को नहीं ढूंढ सकी सीबीआई
Loading...

सीबीआई के स्पेशल डायरेक्टर राकेश अस्थाना के खिलाफ चल रहे रिश्वतखोरी के मामले में अब एक नया मोड़ आ गया है. इंडियन एक्सप्रेस की खबर के मुताबिक, मामले की जांच की जांच कर रहे सीबीआई अधिकारी ने दिल्ली के एक कोर्ट को बताया कि इस मामले में शिकायतकर्ता हैदराबाद के बिजनेसमैन सतीश बाबू साना को सीबीआई नहीं ढूंढ सकी है.

अस्थाना के खिलाफ नहीं मिला कुछ भी नया

स्पेशल सीबीआई जज संतोष स्नेही मान के कोर्ट में सुनवाई के दौरान सीबीआई ने अस्थाना केस में डीएसपी देवेंदर कुमार की जमानत याचिका का विरोध नहीं किया. मामले की जांच कर रहे अधिकारी सतीश डागर ने कहा कि शिकायतकर्ता मौजूद नहीं है और जो समन जारी हुए उसे लेकर भी सना का कोई जवाब नहीं आया. हमें राकेश अस्थाना के खिलाफ और कुछ भी नया नहीं मिल पाया है.

आपको बता दें कि डागर को मामले की जांच डीएसपी ए के बस्सी के ट्रांसफर के बाद सौंपी गई है. सीबीआई डायरेक्टर आलोक वर्मा और अस्थाना को सरकार द्वारा छुट्टी पर भेजे जाने के बाद बस्सी का पोर्ट ब्लेयर ट्रांसफर कर दिया गया था. वहीं सना की शिकायत पर ही सीबीआई ने अस्थाना, देवेंदर कुमार और कथित बिचौलिए मनोज प्रसाद और सोमेश प्रसाद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी.

वहीं दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने सीबीआई के डीएसपी देवेंदर कुमार को बुधवार को जमानत दे दी. उन्हें 50,000 रुपए के मुचलके और इतनी ही रकम की सिक्योरिटी पर जमानत दी गई है.

क्या कहा गया सतीश सना की शिकायत में

बीते 15 अक्टूबर को सतीश सना की लिखित शिकायत के आधार पर इस मामले में FIR दर्ज की गई थी. FIR में आरोप लगाया गया था कि मांस कारोबारी मोइन कुरैशी के खिलाफ एक केस में जांच अधिकारी होने के नाते डीएसपी देवेंद्र कुमार अपने सीनियर की देखरेख में शिकायतकर्ता को बार-बार सीबीआई दफ्तर बुलाकर उसे परेशान कर रहा था. उन पर यह भी आरोप हैं कि वह क्लीन चिट की एवज में सतीश सना को पांच करोड़ रुपए रिश्वत देने के लिए मजबूर कर रहा था. शिकायत में यह भी कहा गया कि रिश्वत के एक हिस्से का भुगतान सतीश सना की ओर से किया गया था.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi