S M L

खाली पड़े एटीएम, कैशलेस की चर्चा, कैसे चले खर्चा

नोटबंदी के बाद सरकार कैशलेस इकोनॉमी की चर्चा कर रही है और एटीएम खाली पड़े हैं

Updated On: Nov 29, 2016 08:20 AM IST

Krishna Kant

0
खाली पड़े एटीएम, कैशलेस की चर्चा, कैसे चले खर्चा

नोटबंदी के बाद से सरकार स्पष्ट तौर पर यह बता पाने में नाकाम रही है कि देश भर में नोटों की पर्याप्त उपलब्धता कब तक सुनिश्चित हो सकेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आठ नवंबर के भाषण में उन्होंने कहा कि जनता को कुछ परेशानी होगी. इसके कुछ दिन बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने दो हफ्ते में स्थिति सामान्य हो जाने की बात कही. बाद में प्रधानमंत्री ने 50 दिन का समय मांगा.

1

सेक्टर छह, वैशाली गाजियाबाद में खाली पड़ा एचडीएफसी बैंक का एटीएम (फोटो: अरुण तिवारी)

अब रविवार को रिजर्व बैंक के गवर्नर उर्जित पटेल ने तमाम तरह के आश्वासन तो दिए लेकिन मौजूदा नकदी संकट कब तक खत्म हो जाएगा, इस पर कुछ स्पष्ट नहीं कहा. उन्होंने अपील की कि लोग लेनदेन में भुगतान के लिए डेबिट/क्रेडिट कार्ड और ई-वॉलेट जैसे विकल्पों का इस्तेमाल करें. यानी आगे भी स्थिति सुधरने नहीं जा रही है. हालांकि, उन्होंने यह कहा कि हम प्रयास कर रहे हैं कि जल्दी स्थिति सामान्य हो जाए.

16

मंडावली मंडी स्थित आईसीआईसीआई बैंक का एटीएम जिसमें तीन महीने से पैसा डाला ही नहीं गया है.

इस बीच रविवार को फर्स्टपोस्ट हिंदी की टीम के लोग दिल्ली के पटपड़गंज, वैशाली और वसुंधरा इलाके में मौजूद करीब 30 से ज्यादा एटीएम पर पहुंचे. दोपहर दो बजे से शाम 7 बजे के बीच हमने इन सभी एटीएम का दौरा किया. किसी भी एटीएम में पैसे नहीं थे. कुछ एटीएम बंद थे, कुछ खुले थे, लेकिन उनमें पैसे नहीं थे. वहां सन्नाटा था.

लोग आ रहे हैं और खाली एटीएम देखकर वापस लौट जा रहे हैं. लोगों की आम जरूरतें भी पूरी नहीं हो पा रही हैं. तीस एटीएम में से एक में भी पैसा न होना यह संकेत है कि स्थिति कितनी भयावह है. यह राजधानी दिल्ली का हाल है.

13

शांति मार्ग, पश्चिमी विनोद नगर स्थित पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम.

नकदी की कमी के चलते लोगों को कहीं भी आने जाने, खान पान, किराये या दूसरे नियमित खर्चे के लिए भी संकट का सामना करना पड़ रहा है.

पश्चिमी विनोद नगर में रहने वाले सॉफ्टवेयर इंजीनियर दीपक ने बताया कि उनको सोमवार को इंटरव्यू देने जाना था. पैसा नहीं निकलने के कारण उनके खाने पीने में भी दिक्कत आ रही है. दीपक ने कहा, 'हमने तीन दिन से सौ रुपये बचाकर रखे थे क्योंकि इंटरव्यू देने जाने के लिए किराया कहां से आता.'

9

पश्चिमी विनोद नगर में मंगलम अस्पताल के सामने भारतीय स्टेट बैंक का एटीएम. यहां पर नियमित नगदी पड़ती है और खूब लंबी लाइन लगती है. शनिवार और रविवार को यहां भी पैसा नहीं आ सका.

इसी इलाके के एक एटीएम पर राकेश नाम के व्यक्ति ने बताया, 'अजीब सी स्थिति हो गई है. तीन दिन से परेशान हूं. घर में एक पैसा नहीं है. खाने पीने का इंतजाम करना भी मुश्किल हो रहा है.'

25

आईपी एक्सटेंशन मेन रोड स्थित पंजाब नेशनल बैंक का एटीएम.

24

आईपी एक्सटेंशन, पटपड़गंज स्थित कोटक महिंद्रा का एटीएम.

22

आईपी एक्सटेंशन, पटपड़गंज मार्केट में करीब छह बैंकों के एटीएम हैं, लेकिन दो दिन से पैसा किसी में नहीं है.

4

वसुंधरा गाजियाबाद स्थिति इंडियन ओवरसीज बैंक का एटीएम (फोटो: अरुण तिवारी)

6

वसुंधरा गाजियाबाद स्थिति एचडीएफसी बैंक का एटीएम (फोटो: अरुण तिवारी)

8

पश्चिमी विनोद नगर स्थित स्टेट बैंक आॅफ हैदराबाद का अधखुला एटीएम.

10

पश्चिमी विनोद नगर स्थित एक्सिस बैंक के खाली एटीएम में अपने बैंक खाते का बैलेंस चेक करता युवक.

11

पश्चिमी विनोद नगर में अगल-बगल स्थित आईसीआईसीआई और एक्सिस बैंक के खाली एटीएम.

12

शांति मार्ग, पश्चिमी विनोद नगर में स्टेट बैंक का एटीएम, जिसका शटर आधा गिरा हुआ है.

14

पश्चिमी विनोद नगर के शांति मार्ग पर चार एटीएम हैं. दो दिन से किसी में नकदी नहीं है. लोग आते हैं और मुआयना करके लौट जाते हैं.

15

पश्चिमी विनोद नगर के शांति मार्ग पर चार एटीएम हैं. दो दिन से किसी में नकदी नहीं है. लोग आते हैं और मुआयना करके लौट जाते हैं.

19

आईपी एक्सटेंशन, पटपड़गंज स्थित इंडियन ओवरसीज बैंक का एटीएम.

18

मंडावली मंडी में स्थित एक्सिस बैंक का एटीएम, जिसमें कई दिन से नकदी नहीं डाली गई है.

23

ज्यादातर एटीएम चेंबर्स में कुछ ऐसे कागज के टुकड़े आपको लटके दिख जाएंगे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi