S M L

आंध्र, तेलंगाना के ATM में पैसे की कड़की दूर कर रहे हैं पड़ोसी राज्य

तेलंगाना को नकदी जहां महाराष्ट्र और केरल से मांगना पड़ रहा है, तो आंध्र प्रदेश की भरपाई ओडिशा और तमिलनाडु कर रहे हैं

Updated On: Mar 29, 2018 03:14 PM IST

FP Staff

0
आंध्र, तेलंगाना के ATM में पैसे की कड़की दूर कर रहे हैं पड़ोसी राज्य

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश के एटीएम में पैसों की तंगी आसपास के राज्य दूर कर रहे हैं. इन दोनों राज्यों में पिछले दो महीने से एटीएम में सुधार का काम चल रहा है. इसका असर कई बैंकों के एटीएम पर पड़ा है जहां काम सुचारू ढंग से नहीं चल पा रहा है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, तेलंगाना को नकदी जहां महाराष्ट्र और केरला से मांगना पड़ रहा है, तो आंध्र प्रदेश की भरपाई ओडिशा और तमिलनाडु कर रहे हैं. इतना कुछ के बावजूद कई एटीएम अपनी क्षमता का 60 प्रतिशत ही काम कर पा रहे हैं, जबकि कई एटीएम तो पिछले तीन महीने से बंद पड़े हैं.

क्या है मुश्किल?

एटीएम के काम ना करने से पेंशन और मनरेगा कर्मियों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. लोग जैसे-तैसे पोस्ट ऑफिस का सहारा लेकर काम चला रहे हैं. ज्यादा दिक्कत 2 हजार के नोटों को लेकर है. रिजर्व बैंक ने सितंबर 2017 से 2 हजार के नोटों की सप्लाई बंद कर दी है. दूसरी ओर जिन लोगों के पास ये नोट हैं, वे लौटकर बैंकों तक नहीं आ रहे.

स्टेट बैंक के हैदराबाद सर्किल के मुख्य महाप्रबंधक स्वामिनाथ जे ने टाइम्स ऑफ इंडिया से कहा, आरबीआई के आदेशानुसार हमने हैदराबाद में जनवरी-फरवरी में कैश की कमी दूर करने के लिए महाराष्ट्र और केरला से पैसा मंगाया लेकिन मार्च में मंगाने की जरूरत नहीं पड़ी. हमारी कोशिश रहती है कि एटीएम में 94 परसेंट तक पैसा जरूर रहे. नोटबंदी के बाद हमने कैश की कमी दूर करने के लिए कई कदम उठाए हैं.

एसबीआई के 2200 एटीएम हैं जिसमें 1500 काम कर रहे हैं जिसे एसबीआई ही मेंटेन करता है. 700 बैंक ऐसे हैं जिसे थर्ड पार्टी मेंटेन करती है लेकिन कैश एसबीआई जारी करता है. हालांकि फिलहाल 1400 से लेकर 1500 तक एटीएम काम कर रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi