S M L

कैमरे और स्पीड सेंसर ने नोएडा में 5 गुणा बढ़ाई चालान की संख्या

इस साल ट्रैफिक पुलिस ने ओवर स्पीड के लिए 1.7 लाख चालान काटे हैं. पिछले साल यह आंकड़ा 14,452 था. इसी तरह गलत दिशा में चलने के लिए पिछले साल 6,467 चालान काटे गए थे, वहीं इस साल ये आंकड़ा 74,510 है

Updated On: Dec 01, 2018 02:55 PM IST

FP Staff

0
कैमरे और स्पीड सेंसर ने नोएडा में 5 गुणा बढ़ाई चालान की संख्या

इस साल नोएडा में पिछले साल की तुलना में 5 गुणा अधिक चालान जारी किए गए. पिछले साल यह संख्या 1.2 लाख थी. ज्यादातर चालान ओवरस्पीड और गलत साइड चलने के लिए किए गए हैं. हालांकि इस बढ़ती संख्या के पीछे ई चालान सिस्टम, सीसीटीवी कैमरों को लगाने और एक्सप्रेसवे पर स्पीड डिवाइस का बहुत बड़ा हाथ है. इनके लगने से ट्रैफिक रूल तोड़ने वालों के लिए बचना लगभग असंभव हो गया है.

पिछले साल के पहले 11 महीनों में 1.24 लाख चालान काटे गए थे. लेकिन इस साल के पहले 11 महीनों में यह संख्या 5.4 लाख है. चालान के कारणों में भी कई बदलाव इस साल देखे गए जिसके कारण संख्या बढ़ गई है. जहां पिछले साल बगैर हेलमेट के सफर करने वालों का सबसे ज्यादा चालान कटा था वहीं इस साल गलत साइड में चलने के कारण सबसे ज्यादा लोगों का चालान काटा गया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक इस साल ट्रैफिक पुलिस ने ओवर स्पीड के लिए 1.7 लाख चालान काटे हैं. पिछले साल यह आंकड़ा 14,452 था. मतलब पिछले साल के मुकाबले लगभग 12 गुणा ज्यादा. इसी तरह गलत दिशा में चलने के लिए पिछले साल 6,467 चालान काटे गए थे, इस साल ये आंकड़ा 74,510 है. इन आंकड़ों से सड़क पर गाड़ियों और नियमों के पालन की सही तस्वीर सामने आ रही है.

नोएडा के पड़ोसी दिल्ली में इस साल जनवरी से 3.4 लाख लोगों का चालान अब तक काटा जा चुका है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi