S M L

बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर का हत्यारा 25 दिन बाद गिरफ्तार, जीतू फौजी ने नहीं चलाई थी गोली!

बुलंदशहर हिंसा मामले में पुलिस बार-बार थ्योरी बदल रही है. सबसे पहले पुलिस ने बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को मुख्य आरोपी बताया

Updated On: Dec 27, 2018 09:26 PM IST

FP Staff

0
बुलंदशहर हिंसा: इंस्पेक्टर का हत्यारा 25 दिन बाद गिरफ्तार, जीतू फौजी ने नहीं चलाई थी गोली!

बुलंदशहर हिंसा के 25 दिन बाद पुलिस ने इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह के हत्यारे को गिरफ्तार करने का दावा किया है. पुलिस ने प्रशांत नट को हिरासत में ले लिया है. पुलिस की विशेष टीम प्रशांत से पूछताछ कर रही है. बता दें कि बुलंदशहर के स्याना थाना क्षेत्र के चिंगरावठी में हिंसा के दौरान इंस्पेक्टर सुबोध कुमार सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. पुलिस ने इस मामले में पहले जीतू फौजी को अरेस्ट किया था.

पुलिस ने प्रशांत नट पर 3 दिसंबर को चिंगरावठी में हुई हिंसा के दौरान शहीद इंस्पेक्टर सुबोध कुमार को गोली मारने का आरोप लगाया है. आरोपी से पूछताछ के बाद स्याना हिंसा के मामले में पुलिस शुक्रवार को बड़ा खुलासा कर सकती है. पुलिस का कहना है कि प्रशांत नट ने पिस्टल छीनने के बाद इंस्पेक्टर को गोली मारी थी. प्रशांत नट चिंगरावठी गांव का रहने वाला है.

बार-बार थ्योरी बदल रही है पुलिस

बुलंदशहर हिंसा मामले में पुलिस बार-बार थ्योरी बदल रही है. सबसे पहले पुलिस ने बजरंग दल के जिला संयोजक योगेश राज को मुख्य आरोपी बताया. हालांकि, पुलिस ने योगेश को पकड़ने में पहले थोड़ी बहुत तेजी दिखाई, लेकिन योगेश के बारे में ज्यादा तफ्तीश नहीं की जा रही.

पुलिस ने कोर्ट से नहीं मांगा जीतू फौजी का रिमांड

इसके बाद जीतू फौजी को एक और आरोपी के रूप में पेश किया गया, लेकिन पुलिस की ये थ्योरी भी धरी की धरी रह गई. पुलिस ने जेल भेजने जाने के बाद जीतू का कोर्ट से रिमांड तक नहीं मांगा. अब पुलिस प्रशांत नट को इंस्पेक्टर सुबोध का कातिल होने का दावा कर रही है. इसके पीछे पुलिस पुख्ता और ठोस सबूत होने का हवाला दे रही है.

(न्यूज़18 के लिए सैयद अली शरर)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi