S M L

कर्नाटक: मारपीट के आरोपी कांग्रेस विधायक फरार, गृहमंत्री ने कहा- पुलिस कर रही है तलाश

कर्नाटक के गृहमंत्री एम बी पाटिल ने बुधवार को कहा कि पुलिस ‘फरार’ विधायक जे एन गणेश की तलाश कर रही है कांग्रेस से निलंबित गणेश को ‘बख्शा नहीं जाएगा’ और जल्द गिरफ्तार किया जाएगा

Updated On: Jan 23, 2019 05:32 PM IST

Bhasha

0
कर्नाटक: मारपीट के आरोपी कांग्रेस विधायक फरार, गृहमंत्री ने कहा- पुलिस कर रही है तलाश

कांग्रेस विधायक जे एन गणेश के खिलाफ बेंगलुरु के एक रिजॉर्ट में अपने साथी विधायक आनंद सिंह के साथ कथित झगड़े को लेकर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है. इस मामले में पुलिस उनकी तलाश कर रही है, लेकिन वह अभी भी पुलिस की पकड़ से बाहर हैं.

कर्नाटक के गृहमंत्री एम बी पाटिल ने बुधवार को कहा कि पुलिस ‘फरार’ विधायक जे एन गणेश की तलाश कर रही है कांग्रेस से निलंबित गणेश को ‘बख्शा नहीं जाएगा’ और जल्द गिरफ्तार किया जाएगा.

उन्होंने कहा, ‘कोई भी कानून से ऊपर नहीं है. पहले ही एक FIR दर्ज कर ली गई है. पार्टी (कांग्रेस) ने उन्हें निलंबित करके अनुशासनात्मक कार्रवाई की है. पुलिस और हमारा विभाग अपना काम कर रहा है... हम तलाश कर रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि गणेश को अभी तक गिरफ्तार नहीं करने का यह मतलब नहीं कि वे ‘चुपचाप बैठे हैं.’ उन्होंने कहा, ‘मैं यह स्पष्ट कर देना चाहता हूं कि इसमें किसी की ओर से कोई हस्तक्षेप नहीं है.’

उन्होंने कहा, ‘सरकार और गृह विभाग किसी दबाव में नहीं है. हमारा विभाग आवश्यक कदम उठा रहा है. हम उन्हें छोड़ेंगे नहीं, हम उन्हें (गणेश) जल्द से जल्द गिरफ्तार करेंगे.’

सिंह और गणेश के बीच शहर के बाहर स्थित एक रिजॉर्ट में काफी गर्मागर्म झड़प हो गई थी. ये दोनों उस रिजॉर्ट में ठहरे हुए थे जहां कांग्रेस के विधायकों को बीजेपी के खरीद फरोख्त के कथित प्रयासों से बचाने के लिए ठहराया गया था.

पाटिल ने दावा किया कि कांग्रेस ने प्राथमिकी दर्ज कराने में ‘‘महत्वपूर्ण भूमिका’’ निभाई और सिंह पर हमले को देखने के बाद गणेश के खिलाफ कार्रवाई की.

इस सवाल पर कि क्या सरकार ने प्राथमिकी दर्ज होने से पहले गणेश को फरार होने दिया, पाटिल ने कहा कि सरकार चुप नहीं बैठी है और कानून के मुताबिक कार्रवाई की जाएगी... ऐसा कुछ भी नहीं हुआ था.

कांग्रेस के नेताओं के रविवार को उन विरोधाभासी बयानों के बारे में पूछे जाने पर जिसमें कहा गया कि कोई झगड़ा नहीं हुआ था, पाटिल ने कहा कि किसी के पास घटना के बारे में पूर्ण जानकारी नहीं थी और चीजें तब स्पष्ट हुई जब पार्टी नेताओं ने सिंह से अस्पताल में मुलाकात की.

मामले की जांच कर रहे एक पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘हमारे पास उन्हें गिरफ्तार करने के लिए टीमें हैं लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो रहा है. हम उन्हें गिरफ्तार नहीं कर पाए.’ सिंह के पुत्र सिद्धार्थ सिंह ने अस्पताल में कहा कि उनके पिता की दो पसलियां और दाहिनी आंख के नीचे की एक हड्डी टूट गई है. उन्होंने कहा कि चिकित्सकों ने कहा है कि उन्हें अगले चार..पांच दिन इलाज कराना होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi