live
S M L

बॉम्बे हाई कोर्ट ने टाटा कंपनियों की ईजीएम पर नहीं लगाई रोक

इस ईजीएम में नुस्ली वाडिया को स्वतंत्र डायरेक्टर के पद से हटाने के लिए प्रस्ताव लाया जाना है.

Updated On: Dec 16, 2016 10:30 PM IST

FP Staff

0
बॉम्बे हाई कोर्ट ने टाटा कंपनियों की ईजीएम पर नहीं लगाई रोक

मुंबई: बॉम्बे हाई कोर्ट ने 16 दिसंबर को टाटा समूह की तीन कंपनियों के कुछ शेयरधारकों को अंतरिम राहत देने से इनकार कर दिया.
कुछ शेयरधारकों ने शेयरधारियों को अगले सप्ताह असाधारण आम बैठक (ईजीएम) में मतदान से रोकने की अपील की थी. इस ईजीएम में नुस्ली वाडिया को स्वतंत्र डायरेक्टर के पद से हटाने के लिए प्रस्ताव लाया जाना है.
हालांकि, न्यायमूर्ति एस जे कथावाला ने टाटा केमिकल्स, टाटा मोटर्स तथा टाटा स्टील पर अगले आदेश तक बोर्ड ऑफ डायरेक्टर में रिक्त पदों को भरने से रोक लगा दी है. अदालत ने टाटा संस को इन मुकदमों पर 15 जनवरी तक जवाब देने को कहा है. दूसरी ओर मुकदमा दायर करने वालों को जरूरी होने पर 25 जनवरी तक इसका जबाब देने को कहा गया है. मामले की अगली सुनवाई 6 फरवरी को होगी.
टाटा की तीन कंपनियों के छोटे शेयरधारकों जनक मथुरादास, योगेश मथुरादास, चंदा मथुरादास तथा प्रमिला मथुरादास ने हाई कोर्ट से शेयरधारकों को ईजीएम में मतदान से रोकने की अपील की थी.
अर्जी देने वालों ने कंपनी कानून के एक नियम को भी चुनौती दी थी. जिसमें प्रवर्तकों को स्वतंत्र निदेशकों को हटाने के प्रस्ताव पर वोट करने का अधिकार है.
उनके वकील नवरोज सेरवई ने दलील दी कि सिर्फ सार्वजनिक शेयरधारकों को स्वतंत्र निदेशक को हटाने के प्रस्ताव पर वोट करने की अनुमति दी जानी चाहिए, क्योंकि ये निदेशक छोटे शेयरधारकों के हितों का संरक्षण करते हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi