S M L

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी को क्यों दिया बेवॉच देखने का आइडिया?

कोर्ट ने गणेश चतुर्थी में विसर्जन से पहले बीएमसी को समंदर के किनारों पर सुरक्षा की सारी तैयारी करने को कहा है

Updated On: Aug 22, 2018 11:17 AM IST

FP Staff

0
बॉम्बे हाईकोर्ट ने बीएमसी को क्यों दिया बेवॉच देखने का आइडिया?
Loading...

बॉम्बे हाईकोर्ट ने बृहन्मुबंई महानगरपालिका (बीएमसी) को बीच सेफ्टी के लिए बेवॉच देखने की सलाह दी है. कोर्ट ने गणेश चतुर्थी में विसर्जन से पहले बीएमसी को समंदर के किनारों पर सुरक्षा की सारी तैयारी करने को कहा है.

बॉम्बे हाईकोर्ट ने मंगलवार को महाराष्ट्र सरकार से कहा कि वह गणेश चतुर्थी उत्सव से पहले शहर में सभी बीच पर सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कदम उठाए. इस उत्सव के अंतिम दिन गणेश प्रतिमा के विसर्जन के लिए मुंबई के सभी बीच पर हजारों की संख्या में लोग आते हैं. इस साल गणेश चतुर्थी का त्योहार 13 सितंबर से शुरू हो रहा है.

एनजीओ जनहित मंच की ओर से बीच सुरक्षा के मुद्दे पर दायर जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान जस्टिस एस एम केमकर और जस्टिस एस वी कोटवाल की खंडपीठ ने ये निर्देश दिए.

साल 2016 में पड़ोसी रायगढ़ जिले के मुरुड-जंजीरा बीच पर 14 कॉलेज छात्रों के डूबने की घटना के बाद जनहित याचिका दायर की गई थी.

अदालत ने कहा, ‘राज्य सरकार को निश्चित तौर पर लोकल अथॉरिटी के साथ सहयोग करना चाहिए और यह तय करना चाहिए कि गणेश उत्सव से पहले सभी बीच पर सुरक्षा को लेकर जरूरी कदम उठाए जाएं.’

अदालत ने बीएमसी को भी दक्षिण मुंबई के गिरगाम चौपाटी बीच पर अस्थाई वॉच टावर लगाने के लिए महाराष्ट्र तटीय क्षेत्र प्रबंधन प्राधिकरण (एमसीजेडएमए) से अनुमति मांगने का निर्देश दिया.

बीएमसी की ओर से पक्ष रख रहे वकील ने बेंच को जानकारी दी कि बीएमसी गोवा के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वॉटर स्पोर्ट्स से ट्रेनिंग ले चुके 93 लाइफगार्ड्स को नियुक्त करेगी. ये पूरी प्रक्रिया तीन महीनों में पूरी हो जाएगी. उन्होंने ये भी बताया कि वॉच टॉवर बनाने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है.

बीएमसी की ओर से बताया गया कि बीच पर पेट्रोलिंग जीपों की तैनाती की गई है. इस पर जस्टिस केमकर ने पूछा, 'जीपों को रखना नहीं है, उन्हें बीच पर मूव करते रहना है. आपने बेवॉच नहीं देखा क्या?' साथ ही जजों ने ये भी कहा कि बीच सेफ्टी के लिए आपको ऐसे आधुनिक तरीके अपनाने होंगे.

बेवॉच एक पॉपुलर एक्शन ड्रामा सीरीज है, जिसकी कहानी लॉस एंजिलिस काउंटी बीच पर पेट्रोल करने वाले लाइफगार्ड्स के ईर्द-गिर्द घूमती है.

इस पर बीएमसी के वकील ने बताया कि सैंक्शन होने के बाद मूविंग जीप तैनात करने के लिए भी कदम उठाए जाएंगे. बीएमसी ने ऐसे वॉलन्टियर्स की मदद भी मांगी है, जो बीच को सुरक्षित रखने में मदद करना चाहते हैं.

याचिका में कहा गया है कि चूंकि सरकार ने ऐसी जगहों की पहचान तो की है कि कौन सी जगह तैरने के लिए सुरक्षित है कौन सी नहीं, लेकिन इसकी कहीं पूरी तरीके से जानकारी नहीं दी गई है.

कोर्ट ने निर्देश दिया है कि पर्याप्त संख्या में बोर्ड इंस्टॉल किए जाएं और हाई टाइड की चेतावनी देने के लिए रेड फ्लैग्स का इस्तेमाल किया जाए.

इस मामले में अगली सुनवाई के लिए कोर्ट 16 अक्टूबर की तारीख दी है.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi