S M L

बीफ की कमी से गोवा का टूरिज्म प्रभावित, गौरक्षकों पर एक्शन ले सरकार: BJP MLA

लोबो ने सदन में कहा कि गोवा में भारी संख्या में लोग बीफ खाते हैं और उन्हें खाद्य सामग्री मुहैया कराना सरकार का काम है

Updated On: Jul 26, 2018 04:31 PM IST

FP Staff

0
बीफ की कमी से गोवा का टूरिज्म प्रभावित, गौरक्षकों पर एक्शन ले सरकार: BJP MLA

गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकल लोबो ने ‘कथित गौरक्षकों’ के खिलाफ कार्रवाई करने में ‘असफल’ रहने पर अपनी ही पार्टी की अगुआई वाली सरकार पर निशाना साधा है.

बीफ की कमी के कारण राज्य के पर्यटन उद्योग के प्रभावित होने का दावा करते हुए उत्तर गोवा जिले में कलांगुटे के बीजेपी विधायक ने सरकारी गोवा मीट कॉम्प्लेक्स को तुरंत फिर से शुरू करने की मांग की. पिछले साल अक्टूबर से यहां कामकाज ठप है.

लोबो ने गुरुवार को सदन में अनुदानों के लिए मांगों के दौरान कहा कि गोवा में भारी संख्या में लोग बीफ खाते हैं और उन्हें खाद्य सामग्री मुहैया हो, यह सुनिश्चित करना सरकार का काम है.

उन्होंने कहा, ‘कुछ कथित गौ संरक्षक सीमा पर खडे़ हैं और राज्य में बीफ (ट्रकों) के प्रवेश को रोक रहे हैं. मुझे लगता है कि इस संबंध में सरकार पूरी तरह विफल रही है.’

लोबो ने ये भी कहा कि उन्हें पता है कि उनकी बात कुछ लोगों को अच्छी नहीं लगेगी. लेकिन अगर हम कर्नाटक और महाराष्ट्र से बीफ आयात नहीं कर सकते तो हमें गोवा में सर्टिफाइड पशुओं को काटने की अनुमति दीजिए. गोवा मीट कॉम्पलेक्स को शुरू करना ही होगा. गोवा में बीफ खाने वाले लोग हैं और आप वो नहीं रोक सकते.

लोबो के सवालों का जवाब देते हुए पशुपालन मंत्री मौविन गोडिन्हो ने कहा कि गोवा मीट कॉम्प्लेक्स में अगस्त तक कामकाज शुरू हो जाएगा.

इस साल की शुरुआत में गोवा के बीफ व्यापारी गौ संरक्षक समूहों के कथित उत्पीड़न के कारण हड़ताल पर चले गए थे. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के इस मुद्दे से निपटने के आश्वासन के बाद उन्होंने अपनी हड़ताल वापस ले ली थी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi