S M L

समाजवादी सरकार की जाति आधारित पुलिस भर्ती है विवेक तिवारी हत्याकांड की वजह: BJP

त्रिपाठी ने कहा, 'मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के शासन के दौरान भर्ती विवादास्पद थी और केवल एक निश्चित जाति के लोगों की ही भर्ती की गई थी'

Updated On: Sep 29, 2018 08:12 PM IST

FP Staff

0
समाजवादी सरकार की जाति आधारित पुलिस भर्ती है विवेक तिवारी हत्याकांड की वजह: BJP

लखनऊ में एपल के एरिया मैनेजर की यूपी पुलिस द्वारा कथित हत्या के बाद राजनीतिक पार्टियां एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप में जुट गई हैं. राज्य की सत्ता में काबिज बीजेपी ने इस हत्याकांड के पीछे समाजवादी पार्टी के शासन के दौरान जाति के आधार पर पुलिस में हुई भर्तियों को जिम्मेदार ठहराया है.

बीजेपी प्रवक्ता राकेश त्रिपाठी ने कहा, 'मैं इस समय राजनीति करना नहीं चाहता, लेकिन यह जाति के आधार पर समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान की गई पुलिस भर्ती का नतीजा है.' त्रिपाठी ने कहा, 'मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के शासन के दौरान भर्ती विवादास्पद थी और केवल एक निश्चित जाति के लोगों की ही भर्ती की गई थी.'

बीजेपी को आनी चाहिए शर्म

त्रिपाठी ने मृतकों के परिवार के साथ अपनी सहानुभूति व्यक्त की और कहा कि अपराधियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा, 'यह लापरवाही का मामला नहीं है बल्कि आपराधिक मामला है. हम एक उदाहरण स्थापित करेंगे ताकि ऐसी घटनाओं को दोहराया न जाए.'

इसके बाद समाजवादी पार्टी द्वारा त्रिपाठी के बयान पर पलटवार किया गया. जिसमें समाजवादी पार्टी की ओर से कहा गया कि यह समय राजनीति करने का नहीं है. समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता अनुराग भदौरीया ने कहा कि बीजेपी को ऐपल के मैनेजर की हत्या पर राजनीति में शामिल होने से शर्मिंदा होना चाहिए.

न्यूज18 की खबर के मुताबिक उन्होंने कहा, 'बीजेपी ने अपना विवेक खो दिया है और अब वह समाजवादी पार्टी को इस हत्याकांड में खींच रही है. उन्होंने कहा कि उन्हें एक आम आदमी की हत्या का राजनीतिकरण करने से शर्मिंदा होना चाहिए जिसकी पत्नी और दो छोटी बेटियों हों.'

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi