S M L

BITSAT 2018 : एंट्रेंस से एडमिशन तक, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

बिटसैट के परिणाम परीक्षा समाप्त होने के तुरंत बाद सिस्टम पर देखे जा सकते हैं. सिस्टम तुरंत सही उत्तर, गलत उत्तर के साथ साथ प्राप्त अंक भी प्रदर्शित कर देता है

Manashjyothi Hazarika Updated On: Mar 29, 2018 10:35 AM IST

0
BITSAT 2018 : एंट्रेंस से एडमिशन तक, यहां पढ़ें पूरी जानकारी

डीम्ड यूनिवर्सिटी बिड़ला इंस्टीच्यूट ऑफ टेक्नॉलाजी एंड साइंस यानी बिट्स पिलानी हर साल बीई और बीफार्मा इंटीग्रेटेड प्रथम वर्ष में एडमिशन लेने के लिए बिटसैट परीक्षा का आयोजन करती है. ये परीक्षा इसके तीनों कैंपसों, पिलानी कैंपस, गोवा कैंपस और हैदराबाद कैंपस में एडमिशन के लिए आयोजित होती है.

बिटसैट का मतलब होता है बिटस एडमिशन टेस्ट. बिटसैट 2018 इस बार 16-31 मई तक कंप्यूटर बेस्ट ऑनलाइन मोड में देश के 50 परीक्षा केंद्रों पर आयोजित होगा. परीक्षा के लिए आवेदन ऑनलाइन उपलब्ध है और भरे हुए आवेदन को जमा करने की आखिरी तारीख 13 मार्च निर्धारित की गई है.

इस परीक्षा से जुड़ी कुछ महत्वपूर्ण जानकारियां निम्नलिखित है

महत्वपूर्ण तारीखें 

कार्यक्रम तारीख
आवेदन जमा करने की आखिरी तिथि 13 मार्च, 2018
आवेदन भूल सुधार 15-19 मार्च, 2018
परीक्षा केंद्रों का आवंटन 21 मार्च, 2018
स्लॉट बुकिंग 23 मार्च- 5 अप्रैल, 2018
हाल टिकट जारी करने की तारीख 12 अप्रैल- 10 मई, 2018
ऑनलाइन परीक्षा 16 मई- 31 मई, 2018
परीक्षा परिणाम की घोषणा अंकों के आधार पर परीक्षा समाप्ति के तुरंत बाद, सिस्टम पर प्रदर्शित हो जाएगा
एडमिट और वेट लिस्ट की घोषणा 20 जून, 2018
10+2 के अंकों के आधार पर एडमिशन के लिए आवेदन की तिथि 1 मई – 18 जून, 2018
 

योग्यता: एडमिशन के लिए निर्धारित योग्यता आवश्यक

उम्मीदवार को 2017 में 10+2 की परीक्षा फिजिक्स, केमेस्ट्री और मैथ्स के साथ न्यूनतम 75 फीसदी अंकों के साथ पास करना अनिवार्य ( बीफार्मा के उम्मीदवार को भी मैथ्स की जगह बायोलॉजी के साथ में उतने ही अंक आवश्यक).

उपर्युक्त सभी विषयों में अलग अलग न्यूनतम 60 फीसदी अंक अनिवार्य 2018 की 10+2 की परीक्षा में शामिल होने वाले उम्मीदवार भी आवेदन के योग्य हैं.

एडमिशन प्रक्रिया:

उम्मीदवारों को सीट केवल उनके द्वारा बिटसैट 2018 की प्रवेश परीक्षा में लाए गए अंकों के आधार पर ही आवंटित की जाएगी.

सेंट्रल और राज्य बोर्डों के टॉपरों को उनके पसंद के प्रोगाम में एडमिशन मिलेगा हालांकि वो आवेदन करके प्रवेश परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

आवेदन फॉर्म:

उम्मीदवार बिटसैट आवेदन पत्र को ऑनलाइन मोड में निम्नलिखित चरणों के आधार पर भर सकते हैं.

रजिस्ट्रेशन: 

रजिस्टर करने के लिए उम्मीदवार को अपना नाम,लिंग, जन्मतिथि भरना होगा. इसके अलावा रजिस्ट्रेशन के लिए ईमेल आईडी की भी आवश्यकता होगी.

फार्म भरना:

अपनी व्यक्तिगत जानकारी, पता और परीक्षा डीटेल्स भरिए .परीक्षा केंद्रो का चयन करें, अधिकतम तीन सेंटर भर सकते हैं. इनके डीटेल्स भरने के उपरांत एक आवेदन संख्या जेनरेट होगी उसे नोट कर लें.

अपना फोटोग्राफ और हस्ताक्षर लिखे गए फारमेट के अनुसार अटैच करें

फीस भुगतान:

आवेदन करने की फीस है 2950 रुपए ( महिलाओँ के लिए 2450 रुपए ) जिसे ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीकों से जमा किया जा सकता है.

आवेदन पत्र की प्रिंटिंग और भुगतान की रसीद आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया समाप्त होने के पश्चात प्राप्त करें.

परीक्षा पैटर्न:

इस परीक्षा में 150 बहुविक्लपीय प्रश्नों के उत्तर देने होंगे जिसके लिए 3 घंटे दिए जाएंगे. प्रश्न पत्र चार भागों में विभाजित होगा.

• पार्ट I – फिजिक्स ( 40 प्रश्न) • पार्ट II – केमेस्ट्री (40 प्रश्न) • पार्ट III – अंग्रेजी दक्षता (15) + तर्क शक्ति (10) • पार्ट IV – मैथ्स ( बी फार्मा के लिए बॉयोलाजी ) (45)

प्रश्नों के सही उत्तर के तीन अंक दिए जाएंगे जबकि एक अंक गलत उत्तर के लिए काट लिया जाएगा. परीक्षा के दौरान परीक्षार्थी किसी प्रश्न को छोड़ कर आगे बढ़ने के बाद उसी छोड़े हुए प्रश्न का उत्तर देने वापस आ सकता है क्योंकि किसी भी सेक्शन के लिए कोई विशेष समय सीमा निर्धारित नहीं है.

अगर उम्मीदवार ने निर्धारित समय सीमा के भीतर सभी 150 सवालों के जवाब दे दिए और फिर भी समय बच रहा है तो उसके पास अतिरिक्त 12 प्रश्नों को हल करने का विकल्प होगा.

स्लॉट बुकिंग और हॉल टिकट निकालना:

उम्मीदवार जिन्होंने आवेदन पत्र सफलतापूर्वक भर लिया है उन्हें स्लॉट बुकिंग प्रक्रिया में भाग लेना आवश्यक है, इसके बाद ही उन्हें हॉल टिकट और एडमिट कार्ड जारी किए जाएंगे. स्लॉट पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर भरे जाएंगे ऐसे में उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वो ज्यादा इंतजार न करें.

बिटसैट स्लॉट बुकिंग प्रक्रिया शुरु करने और बिटसैट एडमिट कार्ड प्राप्त करने के लिए उम्मीदवारों को बिटसैट आवेदन नंबर, लिंग, जन्मतिथि और ईमेल आईडी के साथ लॉग इन करना पड़ेगा.

बिटसैट के परिणाम परीक्षा समाप्त होने के तुरंत बाद सिस्टम पर देखे जा सकते हैं. सिस्टम तुरंत सही उत्तर, गलत उत्तर के साथ साथ प्राप्त अंक भी प्रदर्शित कर देता है. बिटसैट के परीक्षा परिणाम अगले दिन बिटस एडमिशन के वेबसाइट पर भी देखे जा सकते हैं.

मेरिट लिस्ट का निर्धारण उम्मीदवारों के प्रवेश परीक्षा में प्राप्त अंकों के आधार पर किया जाता है अगर दो या उससे अधिक उम्मीदवारों को एक समान अंक आते हैं तो वरीयता देने के लिए निम्नलिखित प्रक्रिया अपनायी जाती है-

1. उम्मीदवार जिसने मैथ्स में ज्यादा अंक प्राप्त किया है ( बी.फार्मा के लिए बॉयोलाजी ) उसे वरीयता दी जाएगी

2. अगर इसके बाद भी फैसला नहीं होता है को फिजिक्स और केमेस्ट्री के अंकों का इस्तेमाल करके फैसला किया जाएगा.

3. इसके बाद भी फैसला नहीं होता है तो अंत में पीसीएम/पीसीबी ( बी.फार्मा ) के 10+2 में प्राप्त किए गए अंकों को आधार मानते हुए फैसला किया जाएगा.

(इस संबंध में और अधिक जानकारी के लिए Careers360.com पर क्लिक करें)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
SACRED GAMES: Anurag Kashyap और Nawazuddin Siddiqui से खास बातचीत

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi