S M L

पीएनबी घोटाले में गिरफ्तार बिष्णुब्रत की कस्टडी 14 मार्च तक बढ़ी

कुछ गिरफ्तार आरोपियों और अन्य लोगों से पूछताछ से मिली जानकारी के आधार पर गुरुवार को और छापेमारी की गई

Updated On: Mar 02, 2018 06:09 PM IST

FP Staff

0
पीएनबी घोटाले में गिरफ्तार बिष्णुब्रत की कस्टडी 14 मार्च तक बढ़ी

11,000 करोड़ के पीएनबी घोटाले में सीबीआई ने गुरुवार को ब्रैडी हाउस ब्रांच के पूर्व मुख्य ऑडिटर बिष्णुब्रत मिश्रा को गिरफ्तार किया था. मिश्रा के पास 2011 से 2015 के दौरान पीएनबी की शाखा में प्रक्रियाओं और कामकाज के तरीके की ऑडिटिंग की जिम्मेदारी थी.

शुक्रवार को मुंबई की कोर्ट ने बिष्णुब्रत मिश्रा की कस्टडी 14 मार्च तक के लिए बढ़ा दी है.

अधिकारियों ने कहा कि कुछ गिरफ्तार आरोपियों और अन्य लोगों से पूछताछ से मिली जानकारी के आधार पर गुरुवार को और छापेमारी की गई. मध्य मुंबई उपनगर के वडाला में एक चाल के छोटे कमरे में ये दस्तावेज छिपाकर रखे गए थे.

समझा जाता है कि यह कमरा नीरव मोदी, न कि उनकी कंपनी के नाम पर है. अरबपति आभूषण कारोबारी ने अपनी कारोबारी व्यस्तता की वजह से सीबीआई जांच में शामिल होने से इनकार कर दिया है.

सीबीआई ने इस मामले में पीएनबी के आंतरिक मुख्य आडिटर एम के शर्मा को गिरफ्तार किया है. वह मुख्य प्रबंधक स्तर के अधिकारी हैं. यह बैंक के किसी आडिटर की पहली गिरफ्तारी है.

शर्मा, स्केल-चार स्तर के अधिकारी हैं, उनपर बैंक की ब्रैडी हाउस शाखा की प्रणालियों और कामकाज के तौर तरीकों की ऑडिट की जिम्मेदारी थी. इसी शाखा से साख पत्र (LOU) जारी किए गए जिससे नीरव मोदी ने अन्य बैंकों की विदेशी शाखाओं से कर्ज लिया.

मोदी के जांच में शामिल होने से इनकार के बाद उसे अधिक कड़ा पत्र जारी कर अगले सप्ताह उसके समक्ष पेश होने को कहा है.

(भाषा से इनपुट)

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi