S M L

बिप्लब देब का एक और ऊटपटांग बयान- टैगोर ने लौटाया था 'नोबेल'

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब सोशल मीडिया पर लगातार अपने विवादित बयानों की वजह से ट्रोल हो रहे हैं

Updated On: May 11, 2018 10:26 AM IST

FP Staff

0
बिप्लब देब का एक और ऊटपटांग बयान- टैगोर ने लौटाया था 'नोबेल'

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बनने के बाद लगातार अपने बयानों के चलते चर्चा में रहे  बिप्लब देब ने एक फिर ऊटपटांग बयान दिया है. मुख्यमंत्री बिप्लब देब ने इस बार अपना बयान रवींद्रनाथ टैगोर को लेकर दिया है. रवींद्रनाथ टैगोर की  157वीं जयंती पर बिप्लब देब ने  कहा कि टैगोर ने अंग्रेज़ों के विरोध में अपना नोबेल पुरस्कार लौटा दिया था.

बता दें कि रविंद्रनाथ टैगोर ने 1919 में जलियांवाला बाग हत्याकांड के विरोध में तत्कालीन वायसराय लॉर्ड चेम्सफोर्ड को नाइटहुड का खिताब वापस किया था, न कि नोबेल पुरस्कार.

पांच हजार साल पहले था इंटरनेट

त्रिपुरा सीएम बिप्लब देब के विवादित बयानों का सिलसिला काफी पुराना है. यही वो बिप्लब देब थे जिन्होंने एक कार्यक्रम में दावा किया था कि 5000 साल पहले महाभारत काल में इंटरनेट और सैटेलाइट थे. बिप्लब देब का तर्क है कि अगर इंटरनेट नहीं रहा होता, तो हस्तिनापुर नरेश धृतराष्ट्र को संजय युद्ध का आंखो देखा हाल कैसे सुना पाते?

मिस वर्ल्ड डायना पर विवाविद बोल

इसके अलावा उन्होंने हाल ही में एक बयान में कहा था, 'जिसने भी इंटरनेशनल ब्यूटी कॉन्टेस्ट में हिस्सा लिया, वो जीतकर लौटा. लगातार पांच सालों तक हमने मिस वर्ल्ड/मिस यूनिवर्स के ताज जीते. डायना हेडन भी जीत गईं. क्या आपको लगता है कि उन्हें ताज जीतना चाहिए था?'

त्रिपुरा के मुख्यमंत्री बिप्लब देब सोशल मीडिया पर लगातार अपने विवादित बयानों की वजह से ट्रोल हो रहे हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
#MeToo पर Neha Dhupia

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi