S M L

महाराष्ट्रः आदिवासी इलाकों में सरकार चला सकती हैं बाइक एंबुलेंस

पिछले साल अगस्त में मुंबई में बाइक एंबुलेंस सेवा शुरू की गई थी. इसका उद्देश्य मरीजों को तुरंत चिकित्सा सहायता मुहैया कराना था

Bhasha Updated On: Feb 11, 2018 04:49 PM IST

0
महाराष्ट्रः आदिवासी इलाकों में सरकार चला सकती हैं बाइक एंबुलेंस

महाराष्ट्र के आदिवासी इलाकों में बाइक एंबुलेंस चलाने पर विचार किया जा रहा है. मुम्बई में मुफ्त बाइक एंबुलेंस सेवा को मिली प्रतिक्रिया से उत्साहित महाराष्ट्र सरकार यह फैसला लेने जा रही है.

राज्य सरकार अब शहर में इन वाहनों की संख्या बढ़ाने और पालघर जैसे राज्य के आदिवासी बहुल कुछ क्षेत्रों में इसी तरह की सेवा शुरू करने की योजना बना रही है.

पिछले साल अगस्त में मुंबई में बाइक एंबुलेंस सेवा शुरू की गई थी. इसका उद्देश्य मरीजों को तुरंत चिकित्सा सहायता मुहैया कराना था. महानगर के विभिन्न हिस्सों से इस सेवा के लिए अब तक करीब 1,500 कॉल आ चुके हैं.

एक आपात त्वरित चिकित्सा सेवा के रूप में तैयार की गई बाइक एंबुलेंस की सेवा निःशुल्क हेल्पलाइन नंबर 108 पर फोन करने से मिलती है. इस सेवा की चिकित्सक टीम की ओर से मुश्किल घड़ी के दौरान मरीजों को उपचार मुहैया कराया जाता है. बाइक एंबुलेंस विशेषकर ऐसी जगहों के लिए है जहां पर बड़ी एंबुलेंस नहीं जा सकती है.

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा मुंबई में 30 और बाइक एंबुलेंस दिए जाएंगे 

इस समय 10 बाइक एंबुलेंस उपलब्ध है जो एकीकृत सेवा कंपनी बीवीजी इंडिया मुहैया करा रही है. इस वाहन में एक मेडिकल किट, ट्रॉमा चिकित्सा प्रबंधन किट और एयरवेज प्रबंधन किट की सुविधा मौजूद है.

कंपनी के एक अधिकारी ने बताया, ‘पिछले साल अगस्त से इस साल 31 जनवरी तक बाइक एंबुलेंस ने 186 ट्रामा मामला, 28 प्रजनन संबंधी आपात सेवाएं और 1,270 चिकित्सा सेवाओं में मदद की है.’

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री दीपक सावंत ने बताया, ‘मुंबई में इस बाइक एंबुलेंस सेवा को असाधारण प्रतिक्रिया मिल रही है और इसे देखते हुए सरकार मुंबई में चल रही 10 बाइक के अलावा 30 अतिरिक्त एंबुलेंस बाइक लाने की योजना बना रही है.’

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi