S M L

विरोध का सामना कर रहे बिहार बोर्ड ने छात्रों को जांच के लिए दिया समय

छात्रों ने दावा किया है कि उन्होंने जेईई और नीट जैसी प्रतियोगिता परीक्षाएं पास कर ली हैं लेकिन इंटरमीडिएट में कम नंबर आने की वजह से काउंसलिंग में हिस्सा नहीं ले पा रहे हैं

Bhasha Updated On: Jun 09, 2018 09:04 PM IST

0
विरोध का सामना कर रहे बिहार बोर्ड ने छात्रों को जांच के लिए दिया समय

इस साल इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की मार्क्सशीट में विसंगतियों को लेकर छात्र परीक्षा बोर्ड का जमकर विरोध कर रहे हैं. इस विरोध के बीच परीक्षा निकाय ने कहा है कि प्रभावित छात्रों को 16 जून तक अपनी उत्तर पुस्तिका की जांच का अवसर मुहैया कराया जा रहा है. बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड (बीएसईबी) ने प्रेस विज्ञप्ति जारी करते हुए कहा कि आवेदकों के कुछ मामलों में जांच के बाद उनके कुछ नंबर बढ़ सकते हैं लेकिन कुछ मामलों में घट भी सकते हैं.

इंटरमीडिएट के परीक्षार्थी बीएसईबी कार्यालय के बाहर पिछले कुछ दिनों से धरना दे रहे हैं. उनमें से कई ने दावा किया है कि उन्होंने जेईई और नीट जैसी प्रतियोगिता परीक्षाएं पास कर ली हैं लेकिन इंटरमीडिएट में कम नंबर आने की वजह से काउंसलिंग में हिस्सा नहीं ले पा रहे हैं. वहीं बीजेपी के वरिष्ठ सांसद सी पी ठाकुर सहित कई नेताओं ने इसकी आलोचना की है. ठाकुर ने कहा कि बिहार में परीक्षा तंत्र अब भी खस्ताहाल ही है.

बिहार स्कूल परीक्षा बोर्ड पिछले साल भी विवादों के चलते कई दिनों तक सुर्खियों में रहा था. उस समय कुछ परीक्षार्थियों को कुल नंबरों से भी ज्यादा नंबर देने के कई मामले मीडिया के जरिए सामने आए थे.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
'हमारे देश की सबसे खूबसूरत चीज 'सेक्युलरिज़म' है लेकिन कुछ तो अजीब हो रहा है'- Taapsee Pannu

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi