S M L

मुजफ्फरपुर मामले में मंत्री के दोषी पाए जाने पर जाएगी कुर्सी: नीतीश

नीतीश कुमार ने सिस्टम में गड़बड़ी की बात करते हुए कहा कि राज्य में बालिका गृह और अन्‍य शेल्टर होम का संचालन सही ढंग से नहीं हो पा रहा है

FP Staff Updated On: Aug 06, 2018 06:26 PM IST

0
मुजफ्फरपुर मामले में मंत्री के दोषी पाए जाने पर जाएगी कुर्सी: नीतीश

बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की बात की है. उन्होंने कहा कि मुजफ्फरपुर में हुई घटना घृणित और शर्मसार करने वाली है और इस केस में दोषी पाए जाने वाले हर शख्स पर कार्रवाई होगी. उन्होंने कहा टाटा इंस्टीट्यूट की रिपोर्ट से मुजफ्फरपुर के बालिका गृह में दुष्कर्म की घटना का खुलासा हुआ. मुझे इसकी जानकारी मिलते ही कार्रवाई हुई.

इसी के साथ नीतीश कुमार ने सिस्टम में गड़बड़ी की बात करते हुए कहा कि राज्य में बालिका गृह और अन्‍य शेल्टर होम का संचालन सही ढंग से नहीं हो पा रहा है. उन्होंने कहा कि सरकार अभी भी कई ऐसे सुधार गृह चला रही है, जहां जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड बच्चों को भेजता है.

'एनजीओ को जिम्मेदारी देना ठीक नहीं'

सीएम ने कहा किइस घटना के बाद हमने सवाल उठाया कि एनजीओ को यह काम क्यों देना चाहिए? चीफ सेक्रेटरी से कहा है कि योजना बनाएं. बालक-बालिका गृह बनवाए जाएं. वहां के लिए जरूरी स्टाफ की भी नियुक्तियां करें. मुजफ्फरपुर मामले में भी अगर तत्काल कोई मकान मिले तो वहां बच्चियों को रखें.

विपक्ष को नीतीश का जवाब

सीएम ने कहा कि ऐसे काम एनजीओ को देना ठीक नहीं है. बच्चे हैं या बच्चियां, सभी को सरकार निर्मित स्थानों में रखा जाए. ये निर्णय हम सैद्धांतिक तौर पर ले चुके हैं और इसको चरणबद्ध तरीके से लागू करेंगे. नीतीश ने विपक्ष पर पलटवार करते हुए कहा कि ये किस तरह के लोग हैं, जो हम पर आरोप लगा रहे हैं. जितने लोग बोल रहे हैं, उनको जानकारी थी तो उन्होंने पहले क्यों नहीं बताया.

नीतीश ने मंजू वर्मा पर उठ रहे सवालों के जवाब में कहा कि मंत्री के लेवल पर कोई फैसला हुआ होगा तो वो भी जाएंगी. कोई करीबी मिला तो उसे भी हटाएंगे. हमने इस मामले में मंत्री से भी स्पष्टीकरण मांगा था. विपक्ष के बयान पर नीतीश ने बोला कि राजनीतिक कमेंट करने वाले लोगों को हमने धरना पर बैठकर हंसते हुए देखा. महिलाओं के प्रति अपशब्द बोलने वाले कैंडल लेकर खड़े थे. संवाद के दौरान डीजीपी और संबंधित विभाग के अधिकारियों ने भी पत्रकारों के सवाल के जवाब दिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi