S M L

कांग्रेस में शामिल होने वाला था शेल्टर होम रेप कांड का आरोपी ब्रजेश ठाकुर!

जेल से पेशी के लिए अदालत ले जाने के वक्त उसने कहा, 'यह लगभग तय था कि मैं कांग्रेस में शामिल होने वाला था. यह सब इसलिए भी हो रहा है. किसी भी लड़की ने मेरा नाम नहीं लिया है, इसकी जांच कराई जा सकती है'

FP Staff Updated On: Aug 08, 2018 02:16 PM IST

0
कांग्रेस में शामिल होने वाला था शेल्टर होम रेप कांड का आरोपी ब्रजेश ठाकुर!

बिहार के मुजफ्फरपुर गर्ल्स शेल्टर होम रेप कांड में हर बीतते दिन के साथ नए खुलासे होते जा रहे हैं. मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने चौंकाने वाला खुलासा किया है कि वो कांग्रेस की सदस्यता लेने वाला था.

बुधवार को जेल से पेशी के लिए अदालत ले जाने के वक्त उसने कहा, 'यह लगभग तय था कि मैं कांग्रेस में शामिल होने वाला था. यह सब इसलिए भी हो रहा है. किसी भी लड़की ने मेरा नाम नहीं लिया है, इसकी जांच कराई जा सकती है.'

अपनी राजदार कही जा रही मधु और उसके संबंधों को लेकर स्थानीय मीडिया में आ रही खबरों पर आरोपी ब्रजेश ठाकुर ने कहा, 'यह कुछ अखबारों द्वारा मेरे खिलाफ मनगढ़ंत खबरें छापी जा रही हैं.' उसने आरोप लगाया कि यह सब इसलिए किया जा रहा है ताकि उसका अखबार (प्रात:कमल) बंद हो जाए.

इस बीच पुलिस आरोपी ब्रजेश ठाकुर को जब कोर्ट लेकर पहुंची तो वहां मौजूद एक महिला ने उसपर स्याही फेंककर अपने गुस्से का इजहार किया.

शेल्टर होम में नाबालिग लड़िकयों से होता था रेप और यौन शोषण

Bihar Muzaffarpur Shelter Home

(फोटो: फेसबुक से साभार)

बता दें कि इस साल के शुरुआत में टाटा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंस, मुंबई (टीआईएसएस) ने अपने सोशल ऑडिट के आधार पर मुजफ्फरपुर के साहु रोड स्थित बालिका सुधार गृह (शेल्टर होम) में नाबालिग लड़कियों के साथ कई महीने तक रेप और यौन शोषण होने का खुलासा किया था.

मेडिकल जांच में शेल्टर होम की कम से कम 34 बच्चियों के साथ रेप की पुष्टि हुई है. पीड़ित कुछ बच्चियों ने कोर्ट को बताया कि उन्हें नशीला पदार्थ दिया जाता था फिर उनके साथ रेप किया जाता था. इस दौरान उनके साथ मारपीट भी होती थी. पीड़ित लड़कियों ने बताया कि जब उनकी बेहोशी छंटती थी और वो होश में आती थीं तो खुद को निर्वस्र (बिना कपड़ों) पाती थीं.

28 जुलाई को सीबीआई की टीम ने मामले की जांच शुरू कर दी. इस हाई प्रोफाइल केस में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत कई आरोपी जेल में हैं.

इस घटना के सामने आने के बाद नीतीश सरकार की काफी किरकिरी हुई है. इस मुद्दे को लेकर विपक्षी पार्टियां लगातार सरकार को निशाना बना रही हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
सदियों में एक बार ही होता है कोई ‘अटल’ सा...

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi