S M L

बिहारः विधवा भाभी से शादी कराने पर 15 साल के युवक ने लगाई फांसी

मृतक के पिता चंद्रेशवर दास के मुताबिक, बड़े बेटे संतोष की मौत के बाद उन्हें 80 हजार रूपए मुआवजे के रूप में मिले थे. इन पैसों पर रूबी के घरवालों की नजर लगी हुई थी

Updated On: Dec 14, 2017 12:14 PM IST

FP Staff

0
बिहारः विधवा भाभी से शादी कराने पर 15 साल के युवक ने लगाई फांसी

विधवा भाभी से जबरन शादी कराए जाने पर 9वीं कक्षा के एक छात्र ने फांसी लगा ली है. घटना बिहार के गया जिले के विनोबानगर गांव की है. यहां महादेव दास (15 साल) की शादी जबरन उसके पिता ने विधवा भाभी से करवा दी. शादी के तुरंत बाद वो गायब हो गया. खोजबीन के बाद उसकी लाश फंदे से लटकी मिली

इंडियन एक्सप्रेस में छपी खबर के मुताबिक महादेव दास के बड़े भाई संतोष दास की मौत कुछ माह पहले हो गई थी. इसके बाद मुआवजे के तौर पर संतोष की पत्नी को 80 हजार रुपए मिले.

पुलिस के मुताबिक इस पैसे को लेकर मृतक संतोष की पत्नी रूबी के पिता और ससुर के बीच संघर्ष चल रहा था. रूबी के पिता का कहना था कि या तो ये पैसे लौटा दो, या फिर अपने छोटे बेटे (महादेव दास) से रूबी की शादी करवा दो.

समझौते के तहत करवाई गई थी शादी 

मृतक के पिता चंद्रेशवर दास के मुताबिक, बड़े बेटे संतोष की मौत के बाद उन्हें 80 हजार रूपए मुआवजे के रूप में मिले थे. इन पैसों पर रूबी के घरवालों की नजर लगी हुई थी.

वे बार-बार यह दबाव बनाते थे कि या तो पैसे दे दो या छोटे बेटे से रूबी की शादी करवा दो. हमने उन्हें 25 हजार रूपए भी दिए, लेकिन वो शादी के लिए लगातार दबाव बनाते रहे.

समझौते के तहत दोनों की शादी करवा दी गई. इसके बाद ये हादसा हुआ.  बुधवार को घटना की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची. पहले तो आत्महत्या का मामला दर्ज किया.

वहीं जब पूरे मामले का खुलासा हुआ तो दोबारा पुलिस ने एफआईआर दर्ज की और लड़के के परिवार समेत शादी में शरीक हुए 9 लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज की. पुलिस का ये भी कहना है कि किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं मिला है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi