S M L

बनारस: BHU के वीसी छुट्टी पर गए, दे सकते हैं इस्तीफ़ा

आगामी 30 नवंबर को उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है

Updated On: Oct 02, 2017 09:09 PM IST

FP Staff

0
बनारस: BHU के वीसी छुट्टी पर गए, दे सकते हैं इस्तीफ़ा

बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (बीएचयू) विवाद खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. तमाम आरोप-प्रत्यारोप का दंश झेल रहे बीएचयू के कुलपति प्रोफेसर गिरीश चंद्र त्रिपाठी सोमवार को छुट्टी पर चले गए. उन्होंने निजी कारणों को छुट्टी की वजह बताया है. बीएचयू के अधिकारियों ने बताया कि त्रिपाठी ‘अनिश्चिकालीन अवकाश’ पर चले गए हैं.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के सूत्रों ने संकेत दिया था कि केंद्र सरकार इस पूरे मामले में निपटने के उनके तरीके को लेकर खुश नहीं है. मंत्रालय ने उनके उत्तराधिकारी के चयन के लिए नियमित प्रक्रिया पहले ही शुरू कर दी है. बता दें कि उन्हें राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की ओर से छात्राओं की शिकायत पर कार्रवाई करने में नाकाम रहने को लेकर पहले ही नोटिस जारी कर दिया गया है.

30 नवंबर को ख़त्म हो रहा है कार्यकाल है

हालांकि, प्रोफेसर त्रिपाठी ने पहले ही साफ कर दिया था कि अगर उन्हें छुट्टी पर जाने के लिए कहा जाता है तो वह अपने पद से इस्तीफा दे देंगे. ऐसे में ये माना जा रहा है कि दबाव में उन्हें न चाहते हुए भी ऐसा कदम उठाना पड़ा. गौर हो कि आगामी 30 नवंबर को उनका कार्यकाल समाप्त हो रहा है.

यूनिवर्सिटी में प्रदर्शनकारी छात्राओं पर 23 सितम्बर की रात हुए पुलिस लाठीचार्ज को लेकर चौतरफा विरोध झेल रहे बीएचयू के कुलपति प्रो गिरीश चंद्र त्रिपाठी नियुक्ति के बाद से ही विवादों में घिरे रहे हैं. इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के अर्थशास्त्री प्रो त्रिपाठी की नियुक्ति नवंबर 2014 में एचआरडी मंत्रालय ने की थी. प्रो. त्रिपाठी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े रहे हैं. कुलपति बनने के बाद से ही उन पर आरएसएस की विचारधारा को बीएचयू में थोपने का आरोप लगता रहा है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi