S M L

भीमा कोरेगांव हिंसा: युवक की हत्या के मामले में 3 लोग गिरफ्तार

1 जनवरी को जब दलित समुदाय के लोग भीमा-कोरेगांव में मिली जीत को मनाने जा रहे थे, तभी कुछ लोगों के समूह ने उनपर हमला कर दिया था

Updated On: Jan 11, 2018 10:14 AM IST

Bhasha

0
भीमा कोरेगांव हिंसा: युवक की हत्या के मामले में 3 लोग गिरफ्तार

कोरेगांव भीमा के निकट 1 जनवरी को जातीय हिंसा के दौरान 30 वर्षीय एक व्यक्ति की हत्या के मामले में पुणे पुलिस ने अहमदनगर जिले से तीन लोगों को गिरफ्तार किया.

पुणे जिले में कोरेगांव भीमा के निकट हुई हिंसा के दौरान राहुल फटांगले की कथित तौर पर हत्या हुई थी. इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया था. फटांगले पर लोगों के एक समूह ने उस समय कथित तौर पर हमला कर दिया था जब वह घर लौट रहे थे.

अपराध किया कबूल

पुलिस अधीक्षक सुवेज हक ने कहा कि हमने अहमद नगर से तीन लोगों को गिरफ्तार किया है और सभी ने फटांगले पर पत्थर और डंडे से हमला करने का अपना अपराध स्वीकर कर लिया है.

बता दें कि 1 जनवरी को जब दलित समुदाय के लोग भीमा-कोरेगांव के में मिली जीत को मनाने जा रहे थे, तभी कुछ लोगों के समूह ने उनपर हमला कर दिया था. इससे काफी विवाद बढ़ गया और इसके बाद दलित समुदाय ने एक दिन का महाराष्ट्र बंद भी कर दिया था. जिससे राज्य सरकार को काफी नुकसान उठाना पड़ा.

फेडरेशन ऑफ रिटेल ट्रेडर्स वेलफेयर एसोसिएशन का एक आंकड़ा बताता है कि बुधवार को बुलाए गए महाराष्ट्र बंद से 700 करोड़ का चूना लगा है.

क्या है भीम-कोरेगांव की लड़ाई का इतिहास?

बता दें कि भीमा-कोरेगांव की लड़ाई में ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना ने पेशवा की सेना को हराया था. दलित नेता इस ब्रिटिश जीत का जश्न मनाते हैं. ऐसा समझा जाता है कि तब अछूत समझे जाने वाले महार समुदाय के सैनिक ईस्ट इंडिया कंपनी की सेना की ओर से लड़े थे. हालांकि, पुणे में कुछ दक्षिणपंथी समूहों ने इस 'ब्रिटिश जीत' का जश्न मनाए जाने का विरोध किया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi