S M L

भद्रक: आरएएफ-सीआरपीएफ का फ्लैग मार्च, स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ सोशल मीडिया पर कथित अपमानजनक टिप्पणियों के कारण हिंसा के चलते कर्फ्यू

Updated On: Apr 10, 2017 09:10 AM IST

Bhasha

0
भद्रक: आरएएफ-सीआरपीएफ का फ्लैग मार्च, स्कूल-कॉलेज रहेंगे बंद

हिंदू देवी-देवताओं के खिलाफ सोशल मीडिया पर कथित अपमानजनक टिप्पणियों के कारण भड़की हिंसा के बाद भद्रक जिले में स्थिति में सुधार के कारण आज कर्फ्यू में चार घंटे की ढील दी गई. वहीं रैपिड एक्शन फोर्स और सीआरपीएफ के जवानों ने फ्लैग मार्च किया.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि हिंसा प्रभावित शहर में पहुंचने के बाद आरएएफ और सीआरपीएफ जवानों ने संवेदनशील इलाकों में फ्लैग मार्च किया.

भद्रक के पुलिस अधीक्षक दिलीप दास ने बताया कि शहर में कानून-व्यवस्था बनाए रखने में पुलिस की मदद के लिए आरएएफ की तीन कंपनियां और सीआरपीएफ की दो कंपनियां पहुंची हैं.

उन्होंने बताया कि शुक्रवार को लगाए गए कर्फ्यू में सुबह 8 से लेकर 11 बजे तक ढील दी गई और बाद में लोगों को आवश्यक सामान खरीदने की अनुमति प्रदान करते हुए इसे दोपहर 12 बजे तक कर दिया गया. इस दौरान सुरक्षा बलों ने कड़ी निगरानी बरती.

पुलिस ने बताया, ‘शहर की समग्र स्थिति में सुधार के बाद आवश्यक सामान खरीदने के लिए लोगों की कतारें दुकानों के बाहर खड़ी नजर आईं.’ उन्होंने बताया कि थोड़ी ढील के बाद कुछ और समय तक कर्फ्यू जारी रहेगा.

पुलिस महानिदेशक के बी सिंह समेत वरिष्ठ अधिकारियों के साथ शहर में कैंप कर रहे गृह सचिव असित त्रिपाठी ने कहा कि इलाके में शांति लौट रही है.

विशेष पुलिस महानिदेशक बी के शर्मा ने बताया कि सोशल मीडिया पर नफरत भरे संदेशों को प्रसारित करने वाले बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस का साइबर प्रकोष्ठ लोगों से सूचना मांगेगा और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi