विधानसभा चुनाव | गुजरात | हिमाचल प्रदेश
S M L

ऑनलाइन धोखाधड़ी: नाइजीरियाई गिरोह ने बांद्रा में बुजुर्ग से लूटे 2 करोड़ रुपए

पुलिस ने इस गिरोह के सरगना को गिरफ्तार कर लिया है

FP Staff Updated On: Aug 14, 2017 03:28 PM IST

0
ऑनलाइन धोखाधड़ी: नाइजीरियाई गिरोह ने बांद्रा में बुजुर्ग से लूटे 2 करोड़ रुपए

मुंबई के बांद्रा में एक वरिष्ट नागरिक के साथ ऑनलाइन धोखाधड़ी से एक नाइजीरियाई गिरोह के 2 करोड़ रुपए लूटने का मामला सामने आया है. जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि उस गिरोह के अलग-अलग बैंकों में 108 फर्जी अकाउंट भी खुले हैं.

पुलिस ने इस गिरोह के सरगना को मीरा रोड नया नगर से गिरफ्तार कर लिया है. साथ ही उसका पैन भी जब्त कर लिया है.

टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के अनुसार, पुलिस ने बताया कि अफगानिस्तान में एक निवेश योजना में लाभ के वादे के साथ 72 वर्षीय बांद्रा निवासी को फेसबुक से 'अमेरिका के दोस्त' द्वारा धोखा दिया गया था. जांच में दिल्ली पुलिस ने मंगल बिश्नोई, अमित अग्रवाल, समीर मर्चेंट उर्फ करन शर्मा, जितेंद्र राठौड़ और परेश निसबंद को गिरफ्तार किया था. इनलोगों के अकाउंट में वरिष्ट नागरिक द्वारा काफी पैसे ट्रांसफर किए गए थे. इन अकाउंट में पैसे जितनी जल्दी ट्रांसफर किए गए थे उतनी ही जल्दी निकाले भी गए थे.

पूछताछ में पता चला कि इस गिरोह के अलग-अलग बैंकों बहुत सारे फर्जी अकाउंट खुले हैं. जो मुंबई और दिल्ली के बैंकों में हैं. पुलिस ने यह भी बताया कि इन बैंक अकाउंट के प्रूफ के तौर पर पैन कार्ड दिए गए थे. जब जांच की गई तो पता चला कि वे सारे पैन कार्ड फर्जी थे.

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘आगे की जांच में हमने मोहम्मद आरिफ शेख को पकड़ा. उसके ऑफिस से कई दस्तावेज और 11 पैन कार्ड मिले. हम जांच कर रहे हैं कि उसने ये नकली पैन कार्ड कैसे बनाए और किसने उसकी मदद की.

वरिष्ट नागरिक ने मार्च में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. उन्होंने पुलिस को बताया कि उनलोगों की फेसबुक पर फ्रेंड रिक्वेस्ट आई थी. इसके बाद उनलोगों ने अफगानिस्तान में एक निवेश योजना के बारे में बताया.

फिर उनलोगों ने अपने मोबाइल नंबर एक दूसरे को दिए. कुछ दिनों बाद वे लोग उनसे पैसे मांगने लगे और इस तरह उन्होंने उनलोगों बताए हुए बैंक अकाउंट में 1.97 लाख रुपए ट्रांसफर किए. इसके बाद उन्हें एक बैंक अकाउंट का डेबिट कार्ड भी भेजा गया था. लेकिन जब वे इससे पैसे निकालने गए तब पता चला कि वो नकली है. इसके बाद उन्हें लगा कि उनके साथ धोखा हुआ है. फिर उन्होंने पुलिस की मदद ली.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi