S M L

बाबरी मस्जिद विध्वंस मामला: आडवाणी, जोशी, उमा पर चलेगा क्रिमिनल केस

25 साल पुराने इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 7 अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था

Updated On: Apr 19, 2017 11:39 AM IST

FP Staff

0
बाबरी मस्जिद विध्वंस मामला: आडवाणी, जोशी, उमा पर चलेगा क्रिमिनल केस

1992 के बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती और विनय कटियार सहित कई वरिष्ठ भाजपा और वीएचपी नेताओं के खिलाफ आपराधिक मामला चलेगा.

सुप्रीम कोर्ट ने सीबीआई की आपराधिक साजिश के आरोपों की बहाली की याचिका पर फैसला सुना दिया है. इलाहाबाद हाई कोर्ट द्वारा मई 2010 में नेताओं के खिलाफ साजिश के आरोपों को खारिज करने के बाद सीबीआई ने शीर्ष अदालत का दरवाजा खटखटाया था.

अब इस मामले में रोजाना सुनवाई होगी. इसके साथ ही रायबरेली से लखनऊ केस ट्रांसफर कर दिया गया है साथ ही मामले से जुड़े जजों के तबादले पर रोक लगा दी गई है. सीबीआई को आदेश दिया है कि इस मामले में रोज उनका वकील कोर्ट में मौजूद रहेगा.

कल्याण सिंह पर फिलहाल केस नहीं

बता दें कि यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मौजूदा वक्त में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह पर केस नहीं चलेगा. जब वह राज्यपाल के पद से हटेंगे उन पर केस चल सकता है.

25 साल पुराने इस मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 7 अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था.

1992 में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने के बाद सीबीआई ने कोर्ट में कहा था कि बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्‍ण आडवाणी, यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह, मुरली मनोहर जोशी और उमा भारती समेत 13 नेताओं के खिलाफ आपराधिक साजिश का ट्रायल चलना चाहिए.

The President of India's main opposition Bharatiya Janata Party (BJP), Lal Kishan Advani (R), acknowledges greetings of people during launching of their party's election campaign in New Delhi April 6. The BJP is the main challenger to Prime Minister P.V. Narasimha Rao's Congress Party for the general election to the parliament which is set to begin from April 27 - RTXGT2Z

बीजेपी बाबरी विध्वंस के बाद सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी (फोटो: रॉयटर्स)

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट में कहा था कि इलाहाबाद हाईकोर्ट के साजिश की धारा को हटाने के फैसले को रद्द किया जाए.

सुप्रीम कोर्ट लाल कृष्ण आडवाणी, कल्याण सिंह, मुरली मनोहर जोशी, और बीजेपी, वीएचपी के अन्य नेताओं पर से आपराधिक साजिश रचने के आरोप हटाए जाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट सुनवाई कर रहा है.

इन अपीलों में इलाहाबाद हाईकोर्ट के 20 मई 2010 के आदेश को खारिज करने का आग्रह किया गया था. हाईकोर्ट ने विशेष अदालत के फैसले की पुष्टि करते हुए भारतीय दंड संहिता की धारा 120बी (आपराधिक साजिश) हटा दिया था.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Ganesh Chaturthi 2018: आपके कष्टों को मिटाने आ रहे हैं विघ्नहर्ता

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi