S M L

नेताओं ने देश को बांटा, जिसे देखो वही धर्म का ठेकेदार है: स्वामी रामदेव

रामदेव ने कहा, आजादी के बाद देश में जाति का मामला काफी हद तक समाप्त हो चुका था. लेकिन नेताओं ने अपने फायदे के लिए इसे फिर जिंदा कर दिया

Updated On: Feb 18, 2018 05:41 PM IST

FP Staff

0
नेताओं ने देश को बांटा, जिसे देखो वही धर्म का ठेकेदार है: स्वामी रामदेव

योगगुरु रामदेव ने कहा है कि नेताओं ने अपने स्वार्थ के लिए जातियों को फिर जिंदा कर लिया है जो समाज की बहुत बड़ी परेशानी बन गई है. उन्होंने यह भी कहा कि आज धर्म के ठेकेदार देश को बांटने की साजिश रच रहे हैं.

रामदेव का आरोप है कि लोगों में देश भक्ति का भाव न होकर अपने धर्म और जाति का भाव आ गया है.

रामदेव मथुरा के महावन में कार्ष्णि आश्रम में गोपाल जयंती महोत्सव के अवसर पर एक संत सम्मेलन को संबोधित करने आए थे. रामदेव ने कहा, ‘जाति के नाम पर आज पूरे देश में आग लगी हुई है. जिसे देखो वही धर्म का ठेकेदार बना हुआ है. नेता भी समाज को बांट कर रखना चाहते हैं. आजादी के बाद देश में जाति का मामला काफी हद तक समाप्त हो चुका था. लेकिन नेताओं ने अपने फायदे के लिए इसे फिर जिंदा कर दिया.’

रामदेव ने ‘सब जाति समान - सब जाति महान’ का नारा देते हुए कहा, ‘वसुधैव कुटुंबकम् मानने वाले सनातन धर्म में पहले से ही समरसता है. इसलिए जन्म के आधार पर जातीय भेदभाव को सही नहीं ठहरा सकते.’ उन्होंने कहा, ‘आज भले ही मेरी बात पर सहमति न बने. पर मैं जानता हूं कि सभी को आगे चलकर यही रास्ता अपनाना होगा.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi