S M L

अयोध्या: 3 लाख से ज्यादा 'दीपक' जलाने पर गिनीज बुक में दर्ज हुआ दीपोत्सव

कार्यक्रम के सफल होने के बाद गिनीज बुक के अधिकारियों ने सीएम योगी को प्रमाण पत्र सौंपा

Updated On: Nov 06, 2018 08:47 PM IST

FP Staff

0
अयोध्या: 3 लाख से ज्यादा 'दीपक' जलाने पर गिनीज बुक में दर्ज हुआ दीपोत्सव
Loading...

अयोध्या का दीपोत्सव 2018 गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड में दर्ज हो गया. इस उत्सव में सरयू नदी के किनारे 3 लाख एक हजार एक सौ बाबन दिए जलाने का इंतजाम किया गया था.

इस मौके पर गिनीज बुक ऑफ रिकार्ड के अधिकारी अयोध्या में मौजूद थे. इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए योगी सरकार ने विशेष इंतजाम किए थे.

कार्यक्रम के सफल होने के बाद गिनीज बुक के अधिकारियों ने सीएम योगी को प्रमाण पत्र सौंपा. इस दौरान यूपी के राज्यपाल राम नाईक, लालजी टंडन और दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किमजोंग सुक मौजूद रहीं.

इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया कि आज से फैजाबाद जिले का नाम अयोध्या कर दिया गया है. योगी ने कहा कि अयोध्या के साथ कोई अन्याय नहीं कर सकता है.

सीएम योगी ने अपने इस फैसले को 'गुड न्यूज' करार दिया. माना जा रहा है कि लोकसभा चुनावों से पहले बीजेपी हिंदुत्व को बढ़ावा देने में जुटी है. योगी ने कहा कि हम सत्ता में इसलिए आए हैं जिससे अयोध्या के साथ कोई अन्याय न हो. हर भारतीय जानता है कि अयोध्या क्या चाहता है. हालांकि उन्होंने राम मंदिर का नाम नहीं लिया.

इस दौरान यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इलाहाबाद का नाम बदलने का विरोध करने वालों को जवाब दिया. योगी ने कहा कि नाम ही हमारी गौरवमयी परंपरा से जोड़ता है, इसलिए प्रयागराज नाम क्यों नहीं होगा.

योगी आदित्यनाथ ने कहा 'लोग कह रहे हैं क्यों इलाहाबाद का नाम बदल दिया, नाम से क्या होता है? मैंने कहा तुम्हारे मां-बाप ने तुम्हारा नाम रावण और दुर्योधन क्यों नहीं रख दिया?'

इतना ही नहीं यूपी के सीएम ने विरोधियों को कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा 'नाम का बड़ा भारी महत्व होता है. इस देश में सबसे ज्यादा नाम राम से जुड़ते हैं.

0
Loading...

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
फिल्म Bazaar और Kaashi का Filmy Postmortem

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi