S M L

बाबरी विध्वंस बरसी: छावनी बनी अयोध्या, UP में हाई अलर्ट

अयोध्या के सभी एंट्री पर बेरिकेडिंग लगाकर तलाशी ली जा रही है. श्रद्धालुओं को भी चेकिंग के दौर से गुजरना पड़ रहा है

Updated On: Dec 06, 2018 09:25 AM IST

FP Staff

0
बाबरी विध्वंस बरसी: छावनी बनी अयोध्या, UP में हाई अलर्ट

अयोध्या में बाबरी मस्जिद ढहाए जाने की 26वीं बरसी पर उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी किया गया है. इसके साथ ही देशभर के संवेदनशील जगहों पर भी नजर रखी जा रही है. आज यानी बाबरी विध्वंस की बरसी को विश्व हिंदू परिषद ने शौर्य दिवस के रूप में मनाने का फैसला किया हैं वहीं कई संगठन इसे 'काला दिवस' के तौर पर मनाएंगे. ऐसे में अयोध्या को छावनी में तब्दील कर दिया गया है.

न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक 6 दिसंबर की सुरक्षा के मद्देनजर अयोध्या में 6 कंपनी पीएसी, 2 कंपनी आरएएफ के साथ 4 एडिशनल एसपी, 10 डिप्टी एसपी, 10 इंस्पेक्टर, 150 सब इंस्पेक्टर और 500 सिपाहियों की तैनाती की जा रही है. इसके अलावा घरों की छतों से भी पुलिस निगरानी करेगी.

यह भी पढ़ें: बाबरी विध्वंस: एक-एक कर तीनों गुंबद टूटे और उखड़ गई हिंदू समाज की विश्वसनीयता

दरअसल पिछले कुछ दिनों से अयोध्या में राम मंदिर को लेकर हलचल तेज हो गई है. ऐसे में सुरक्षा व्यवस्था पर और भी ज्यादा ध्यान दिया जा रहा है. अयोध्या के सभी एंट्री पर बेरिकेडिंग लगाकर तलाशी ली जा रही है. श्रद्धालुओं को भी चेकिंग के दौर से गुजरना पड़ रहा है, उसके बाद ही उन्हें प्रवेश की इजाजत दी जा रही है.

जिले में पहले से ही धारा 144 लागू है. इसके अलावा अयोध्या शहर में गुरुवार से रूट डायवर्जन भी लागू कर दिया जाएगा. इसके तहत चार पहिया गाड़ियां टेढ़ी बाजार चौराहे से शहर की ओर नहीं जा सकेंगे. उन्हें संपर्क मार्ग से ही जाना पड़ेगा. इसके अलावा प्रशासन ने गैर परंपरागत कार्यक्रम पर रोक लगा दी है.

यह भी पढ़ें: बाबरी विध्वंस: हिंदू बनेंगे ना मुसलमान बनेंगे, इंसान की औलाद हैं इंसान बनेंगे

वहीं जिले की सभी सीमाओं पर बैरियर लगा दिया गया है. सुल्तानपुर सीमा, अंबेडकर नगर सीमा, बस्ती व गोंडा सीमा पर बैरियर लगा दिए गए हैं. यही नहीं रौनाही टोल प्लाजा पर भी सुरक्षा बल तैनात कर दिए गए हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi