live
S M L

नाइजीरियाई छात्रों पर हमले में 44 लोगों पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज

600 लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने का केस दर्ज किया है

Updated On: Mar 29, 2017 09:28 AM IST

FP Staff

0
नाइजीरियाई छात्रों पर हमले में 44 लोगों पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज

पुलिस ने ग्रेटर नोएडा में हुए नाइजीरियाई छात्रों पर हमले के मामले में तकरीबन 600 लोगों के खिलाफ दंगा भड़काने और 44 लोगों पर हत्या की कोशिश का केस दर्ज किया है.

12वीं क्लास के छात्र मनीष खारी की मौत के लिए मनीष के परिजनों ने कथित तौर पर नाइजीरियन स्टूडेंट्स का हाथ बताया था. जिसके बाद पुलिस ने उन लोगों की गिरफ्तारी भी की. पूछताछ में उन छात्रों का मृतक से कोई संपर्क नहीं होने पर पुलिस ने उन्हें रिहा कर दिया था.

इसके बाद शहर के कुछ लोगों ने उनके विरोध में प्रदर्शन शुरू कर दिया और रविवार रात से सोमवार शाम तक 5 अलग-अलग जगहों पर नाइजीरियन छात्रों को जमकर पीटा और उनकी गाड़ियों में तोड़फोड़ की.

जगत फार्म मार्केट में भी देर रात एक नाइजीरियन पर हमला किया गया था. लोगों ने रिहायशी इलाकों में किराए पर रहने वाले अफ्रीकी छात्रों से कमरा खाली कराने की मांग भी की.

nigerian

क्या थी पूरी घटना

25 मार्च: 12वीं का छात्र मनीष खारी लापता

26 मार्च: झाड़ी में मिला, अस्पताल ले जाने पर मृत घोषित डॉक्टरों ने बताया, ड्रग्स ओवरडोज से मौत. नाइजीरियाई लोगों पर इलाके का माहौल खराब करने का आरोप.

27 मार्च: SSP दफ्तर पर स्थानीय लोगों का प्रदर्शन.

27 मार्च: मौत के विरोध में परी चौक पर कैंडल मार्च कैंडल मार्च के दौरान हल्का लाठीचार्ज परी चौक से गुजर रहे 3 नाइजीरियाई पर हमला हिंसा में शामिल 54 लोगों की पहचान की गई.

6-7 स्थानीय लोग गिरफ्तार किए गए. किसी भी नाइजीरियाई की गिरफ्तारी नहीं हुई है.

विदेश मंत्री ने निष्पक्ष जांच का दिया आश्वासन 

इस हमले का एक वीडियो सामने आने के बाद एक नाइजीरियाई छात्र ने विदेश मंत्री को ट्वीट करते हुए तत्काल कार्यवाही की मांग की तो जवाब में सुषमा स्वराज ने आश्वासन दिया.

नाइजीरियाई छात्र सादिक बेलो ने सुषमा स्वराज को ट्वीट करते हुए कहा, 'नोएडा में रह रहे अंतरराष्ट्रीय स्टूडेंट्स के बारे में तेजी कार्रवाई करने की जरूरत क्योंकि नोएडा में हमारी जिंदगी के लिए खतरा पैदा हो गया है.'

सुषमा ने ट्विटर पर ही इसका जवाब देते हुए कहा, 'भारत सरकार इस मुद्दे से अवगत है. हम तत्काल कार्रवाई कर रहे हैं.'

उन्होंने एक अन्य ट्वीट में लिखा, 'हमने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की है और उन्होंने इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना की निष्पक्ष जांच कराने की बात कही है.

आगे की जांच अभी चल रही है

पुलिस ने इस मामले में विडियोग्राफी के जरिए आरोपियों की पहचान की है. पोस्टमार्टम की रिपोर्ट से अभी छात्र की मौत की वजह का पता नहीं लग पाया है. जांच चल रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
KUMBH: IT's MORE THAN A MELA

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi