S M L

गुजरात में यूपी-बिहार के लोगों पर हमला: अल्पेश ठाकोर की सफाई कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल?

अल्पेश ठाकोर जितनी भी सफाई दें, लेकिन, इस मामले में उनके संगठन से जुड़े कई लोगों पर मुकदमा भी दर्ज हुआ है. उनके संगठन का नाम आने के बाद अब कांग्रेस के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं.

Updated On: Oct 10, 2018 06:15 PM IST

Amitesh Amitesh

0
गुजरात में यूपी-बिहार के लोगों पर हमला: अल्पेश ठाकोर की सफाई कांग्रेस का डैमेज कंट्रोल?

गुजरात में हिंदीभाषी लोगों पर हो रहे हमले को लेकर बीजेपी के निशाने पर रहे कांग्रेस विधायक अल्पेश ठाकोर ने अब सफाई दी है. ठाकोर ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर दावा किया है कि उनका या उनके संगठन का हिंदीभाषी प्रवासी लोगों पर हो रहे हमले से कोई लेना देना नहीं है.

गौरतलब है कि चौदह महीने की एक बच्ची के साथ कथित रूप से बलात्कार के मामले को लेकर 28 सितंबर को बिहार के एक मजदूर की गिरफ्तारी के बाद से ही हिंसा भड़क गई थी. पीड़ित बच्ची ठाकोर समुदाय से है. इस घटना के बाद से ही बिहार और यूपी से गुजरात आए मजदूरों और वहां रह रहे दूसरे प्रवासी लोगों पर हमले बढ़ गए थे.

GUJARAT

दरअसल, गुजरात की घटना के बाद वहां बिहार-यूपी के लोगों के साथ मारपीट और उनके पलायन के बाद सियासत भी तेज हो गई है. केंद्र में बीजेपी की सरकार है, गुजरात में भी बीजेपी की सरकार है, यूपी में भी बीजेपी की सरकार है और बिहार में नीतीश कुमार की सरकार में बीजेपी भी भागीदार है. ऐसे मौके पर कांग्रेस समेत आरजेडी और दूसरे दलों की तरफ से इस मुद्दे को लेकर निशाना साधा जाने लगा था.

हमला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के गुजरात से जुड़ा था तो बीजेपी को यूपी में बिहार में घेरने की कोशिश की जाने लगी. लेकिन, इस पूरे खेल में बीजेपी ने भी काफी आक्रामक तरीके से कांग्रेस पर पलटवार किया. बीजेपी ने गुजरात में हो रहे हमले को लेकर अल्पेश ठाकोर के संगठन ठाकोर सेना को ही जिम्मेदार ठहराना शुरू कर दिया. बीजेपी के लिए हमले का मौका और मिल गया क्योंकि अल्पेश ठाकोर को कांग्रेस ने शक्ति सिंह गोहिल के साथ बिहार में पार्टी को मजबूत करने की जिम्मेदारी दी है.

अल्पेश ठाकोर के संगठन पर गुजरात में बिहार के लोगों पर हो रहे हमले के लिए जिम्मेदार बताना और दूसरी तरफ उन्हें बिहार में कांग्रेस पार्टी के काम की जिम्मेदारी देने के मामले को लेकर ही कांग्रेस फंस गई. क्योंकि इसके चलते बीजेपी को कांग्रेस पर हमलावर होने का मौका मिल गया.

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने गुजरात में हो रहे हमले के लिए अल्पेश ठाकोर की ठाकोर सेना और कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया. दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी इस मुद्दे पर गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी से बात की. नीतीश का कहना है कि जो दोषी दुष्कर्मी हो उसे हर हाल में सजा मिलनी चाहिए लेकिन, उनका मानना है कि जो दोषी है उसी पर कार्रवाई हो न कि सभी लोगों के साथ इस तरह का सलूक किया जाए.

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस मुद्दे पर गुजरात के मुख्यमंत्री से बात की है. गुजरात सरकार इस मामले में ठोस कदम उठाकर बिहार-यूपी के लोगों के साथ हो रही हिंसा को रोकने की बात कर रही है.

लेकिन, बीजेपी के हमले और कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर के संगठन के नाम आने के बाद अब यह पूरा मामला कांग्रेस के लिए भी मुश्किल भरा हो गया है. पहले बीजेपी की सरकार पर हमला कर रही कांग्रेस इस मामले में अपने नेता को लेकर बचाव करती नजर आ रही है.

शक्ति सिंह गोहिल

शक्ति सिंह गोहिल

बिहार के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने इस मुद्दे पर कहा कि कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर के बिहार में बढ़ती लोकप्रियता के चलते बीजेपी घबरा गई है. उधर अल्पेश ठाकोर का कहना है कि वो तो केवल बलात्कार पीड़िता बच्ची के लिए इंसाफ की मांग कर रहे थे. लेकिन, इसे कुछ लोगों ने सियासी रंग दे दिया.

अल्पेश ठाकोर जितनी भी सफाई दें, लेकिन, इस मामले में उनके संगठन से जुड़े कई लोगों पर मुकदमा भी दर्ज हुआ है. उनके संगठन का नाम आने के बाद अब कांग्रेस के लिए मुश्किलें बढ़ गई हैं. कांग्रेस का बिहार के लोगों से सहानुभूति रखने और उनके साथ अपने-आप को जोड़ने की कोशिश पर पानी फिरने के डर से ही अब कांग्रेस नेता अल्पेश ठाकोर की तरफ से बिहार-यूपी के मुख्यमंत्रियों को पत्र लिखकर सफाई दी जा रही है.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi