S M L

बीजेपी सरकार की उपेक्षा के कारण उल्फा में शामिल हो रहे हैं असमी युवा : कांग्रेस

केंद्रीय मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा और केंद्रीय मंत्री राजेन गोहेन सहित प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ नेता ‘बिना सोचे समझे टिप्पणियां’ करके स्थिति को और बिगाड़ रहे हैं

Updated On: Nov 24, 2018 09:37 PM IST

Bhasha

0
बीजेपी सरकार की उपेक्षा के कारण उल्फा में शामिल हो रहे हैं असमी युवा : कांग्रेस

कांग्रेस नेता देवव्रत सैकिया ने शनिवार को आरोप लगाया कि असम और केंद्र की बीजेपी सरकार, असमी लोगों की भावनाओं को नजरंदाज कर रही है. इसके चलते युवाओं के प्रतिबंधित उल्फा (आई) में कथित रूप से शामिल होने में वृद्धि हुई है.

असम विधानसभा में विपक्ष के नेता सैकिया ने कहा कि 'राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने भी स्वीकार किया है कि उग्रवादी संगठन में युवाओं की ताजा भर्ती हुई है.'

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्रीय मंत्री हेमंत बिस्वा शर्मा और केंद्रीय मंत्री राजेन गोहेन सहित प्रदेश बीजेपी के वरिष्ठ नेता ‘बिना सोचे समझे टिप्पणियां’ करके स्थिति को और बिगाड़ रहे हैं.

उन्होंने कहा, ‘असम में युवा निराश हैं और उल्फा (आई) में शामिल हो रहे हैं. क्योंकि राज्य और केंद्र की बीजेपी सरकारों ने असमी लोगों की भावनाओं को नजरंदाज किया है और नागरिक (संशोधन) विधेयक को आगे बढ़ा रही है.’

कांग्रेस नेता ने कहा, ‘शर्मा न केवल भाजपा की असम विरोधी नीतियों के चलते उल्फा (आई) को बढ़ावा मिलने की वास्तविकता को नकार रहे हैं. बल्कि संगठन पर एक वंशवादी ईकाई का ठप्पा लगाकर उसे उकसा रहे हैं.’

हर साल 150-200 लोगों का उल्फा में शामिल होना नई बात नहीं:

शर्मा ने इस सप्ताह के शुरू में उल्फा आई प्रमुख परेश बरूआ के रिश्तेदार मुन्ना बरूआ के प्रतिबंधित संगठन में शामिल होने को अधिक तवज्जो नहीं देते हुए कहा था कि राज्य से प्रत्येक वर्ष 150- 200 युवाओं के उसमें शामिल होना कोई नई बात नहीं है.

सैकिया ने कहा कि भाजपा के दोनों नेता इसके साथ ही नागरिकता (संशोधन) विधेयक का बचाव कर रहे हैं और ‘यहां तक कि असम समझौते की प्रासंगिकता को भी खारिज कर रहे हैं.’

उन्होंने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि इस कदम का उद्देश्य असम के युवाओं को राज्य के खिलाफ हथियार उठाने के लिए भड़काने का ‘जानबूझकर किया गया एक प्रयास’ है जो रोजगार और विकास कार्यों की कमी के चलते पहले से निराश हैं.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Jab We Sat: ग्राउंड '0' से Rahul Kanwar की रिपोर्ट

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi