S M L

अब रोज सबको नहीं मिलेगा ताजमहल का दीदार

नए नियम के तहत 15 साल से छोटे बच्चों का भी लगेगा टिकट

FP Staff Updated On: Jan 02, 2018 02:24 PM IST

0
अब रोज सबको नहीं मिलेगा ताजमहल का दीदार

पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ताजमहल घूमने आने वाले सैलानियों की उच्चतम सीमा निश्चित करने पर विचार कर रहा है. जिसमें ताजमहल घूमने वालों की संख्या अधिकतम 30,000 व्यक्ति रो़ज़ हो सकती है.

एएसआई रेलवे टिकट बुकिंग सिस्टम के तर्ज पर टिकट वितरण प्रणाली भी विकसित करने वाला है जिस पर ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही तरीकों से टिकट खरीदे जा सकते हैं. जैसे ही बिके हुए टिकटों की संख्या 30,000 पहुंचेगी वैसे ही उस दिन के लिए टिकट वितरण बंद हो जाएगा.

खास बात यह है कि इसमें 15 वर्ष से कम आयु वालों को भी टिकट अनिवार्य रहेगा पर इस आयु वर्ग के लिए टिकट मुफ्त रहेंगे. एक-एक सैलानी की गिनती हो सके इसलिए इस स्टेप टिकिट सिस्टम की शुरुआत पर विचार कर रहा है एएसआई.

सैलानियों की उच्चतम सीमा निश्चित कर के इमारत को छेड़छाड़ से बचाने का तर्क दिया जा रहा है. यहां बता दें कि अब तक ताजमहल पर सैलानियों की संख्या पर कोई रोक नहीं है जिस कारण यहां कभी-कभी खास मौकों पर 60,000 से 70,000 तक सैलानी जमा हो जाते हैं. ऐसे में इमारत से छेड़छाड़ पर उसे क्षति पहुंचती रहती है.

इन सभी मुद्दों पर सोमवार को प्रारंभिक दौर की बैठक में चर्चा हुई जिसमें एएसआई के डॉयरेक्टर जनरल, संस्कृति मंत्रालय के संयुक्त सचिव और सीआईएसएफ के प्रतिनिधि मौजूद थे. अब मंगलवार को एक और मुख्य बैठक में इन मुद्दों पर आगे कार्यवाही होगी.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
Test Ride: Royal Enfield की दमदार Thunderbird 500X

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi