S M L

देश के सबसे अमीर मंदिर की देखरेख करने से ASI का इनकार

राज्य सरकार ने इस फैसले का पहले ही विरोध किया था, उनका कहना था कि केंद्र सीधा मंदिरों को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहा है

FP Staff Updated On: May 06, 2018 04:33 PM IST

0
देश के सबसे अमीर मंदिर की देखरेख करने से ASI का इनकार

आर्कियोलॉजिकल सर्वे ऑफ इंडिया (ASI) ने शनिवार को वह पत्र वापस ले लिया है जिसमें उसने तिरूमला में भगवान वेंकटेश्वर मंदिर को टेक ओवर करने की बात कही थी.

हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक तिरुमला तिरुपति देवसथमा (TTD) के एग्जीक्यूटिव ऑफिसर अनिल कुमार सिंघल को लिखे पत्र में ASI सुप्रीटेंडेंट आर श्रीलक्ष्मी ने कहा कि उन्हें ASI मुख्यालय की तरफ से संवाद प्राप्त हुआ है. उन्हें इस जांच करने के लिए कहा गया है, जिसमें कहा गया है कि तिरुमला श्राइन और तिरुमला में इसके सभी मंदिर की प्राचीन और ऐतिहासिक मंदिरों की तरह ही देखरेख की जाएगी.

उन्होंने कहा 'इसलिए आपसे अनुरोध है कि टीटीडी के अंतर्गत आने वाले आसपास के मंदिरों पर जानकारी प्रदान करें और सूचना एकत्र करने और तस्वीरें लेने के लिए आपके पास आने वाले एएसआई अधिकारियों के साथ सहयोग करें.' इस पत्र के बाद उन्होंने एक पत्र भेजा जिसमें लिखा था कि पहले वाला पत्र अनजाने में लिखा गया था और उसे खारिज कर दिया.

जैसे ही यह पत्र मिला, राज्य सरकार ने इसका विरोध किया था. इसके अलावा आरोप लगाया था कि केंद्र सीधा मंदिरों को नियंत्रित करने की कोशिश कर रहा है. राज्य के उपमुख्यमंत्री के ई कृष्णमूर्ति ने कहा कि भक्तों की भावनाओं को ध्यान में रखते हुए तिरुमला मंदिर पर किसी भी निर्णय को लिया जाना चाहिए.

0

अन्य बड़ी खबरें

वीडियो
कोई तो जूनून चाहिए जिंदगी के वास्ते

क्रिकेट स्कोर्स और भी

Firstpost Hindi